इलाहाबाद : 28 साल के युवक ने बिना पैसे के ही लिफ्ट लेकर घूम डाला पूरा इंडिया
| Rainbow News - Oct 7 2017 3:59PM

विदेशों में तो बिना पैसे के देश-विदेश घूमने का कल्चर देखने को मिलता है लेकिन भारत में ऐसा सुनने को नहीं मिलता है। लेकिन अब यहां भी लोग ऐसे रिस्क ले रहे हैं। 28 साल का एक लड़का पिछले 243 दिन से लगातार भारत में घूम रहा है, वह भी बिना पैसे के। वह अभी तक 28 राज्यों में जा चुका है और इस समय मध्यप्रदेश में है। ये शख्स हैं दिल्ली में रहने वाले अंश मिश्रा, जिनका नेटिव प्लेस इलाहाबाद है। ये 3 फरवरी 2017 को इलाहाबाद से निकले थे और 6 अक्टूबर 2017 को उन्हें 243 दिन हो चुके हैं। उनसे इस अजीब जर्नी के बारे में बातचीत की गई तो भारत के लोगों के बारे में उन्होंने ऐसी बातें बताईं जिन पर आमतौर से लोग यकीन नहीं करते हैं।

इस जर्नी पर निकलने से पहले अंश दिल्ली में 5 साल से अच्छी खासी जॉब कर रहे थे। एक दिन वे ढाबे पर खाना खा रहे थे तो एक अच्छे पढे-लिखे आदमी ने अपनी कार से एक खड़े ट्रक में टक्कर मार दी। अपनी गलती मानने की वजह कार वाला ट्रक ड्राइवर से बदतमीजी से बात करने लगा और ट्रक ड्राइवर चुपचाप सुन रहा था। इस वाक्ये के बाद अंश की ट्रक ड्राइवर से बात हुई तो उसने कहा कि हमें तो सभी गाली देते हैं जबकि हम अपनी पूरी जिंदगी दूसरों की सुविधा के लिए खर्च कर देते हैं। हमें शराब के लिए बदनाम किया जाता है जबकि शराब तो इनकी गाड़ी में भी रखी थी, क्या ये नहीं पीते? इन बातों का अंश पर इतना असर हुआ कि उन्होंने दिल्ली में अच्छी-खासी नौकरी छोड़कर रियल भारत को देखने का संकल्प लिया और वह भी लिफ्ट लेकर। वह ये प्रूव करना चाहते थे कि असली में सभ्य तो ये गरीब लोग हैं जो बिना किसी 'गिव एंड टेक ' के लोगों की मदद करते हैं, और उन्होंने 243 तक भारत घूमकर ये साबित भी किया। वह घर से एक रुपए लेकर नहीं निकले थे लेकिन लोगों की मदद से वह पूरा भारत घूम रहे हैं।

अंश ने बताया कि यदि वह लोगों से पैसे लेते तो उनके पास करीब 10 लाख रुपए इकट्ठा हो चुके होते लेकिन उन्हें लोगों से सिर्फ खाना, ठहरना और लिफ्ट ही चाहिए थी। तभी ये बात साबित होती कि इंडियन किसी की मदद, बिना किसी स्वार्थ के भी कर सकता है। इस रोमिंग जर्नी के लिए वे 3 फरवरी को इलाहाबाद से निकले और पहली लिफ्ट एक स्कूटी वाले से ली। उसके बाद दिल्ली, मथुरा, अागरा, भरतपुर, जयपुर, जैसलमेर,जामनगर, अहमदाबाद, दीव, मुंबई, पुणे,गोवा, एलेप्पी, तिरुअनंतपुरम, कन्याकुमारी,रामेश्वरम, पुदुच्चेरी, चेन्नई, पुरी, कोलकता, गुवाहाटी होते हुए नार्थ-ईस्ट के सभी 7 राज्यों, भागलपुर, पटना, रांची, वाराणसी, पौड़ी गड़वाल, चंडीगढ़, मनाली, लेह फिर वहां से अमृतसर और दिल्ली। दिल्ली के बाद वह एमपी में आए हैं जो उनका 28 वां राज्य है। इसके बाद छत्तीसगढ़ होते हुए 15 अक्टूबर तक वापस अपने घर इलाहाबाद पहुचेंगे।

इस यात्रा में उन्हें एक बार ढाई दिन तक भूखा रहना पड़ा था तो वहीं एक बार लिफ्ट के लिए 9 घंटे तक हाइवे पर इंतजार करना पड़ा था। अंश साइकिल से लेकर मर्सिडीज तक से यात्रा कर चुके हैं और रेगिस्तान की रेत से लेकर 7 स्टार होटल तक में रात गुजार चुके हैं। अपने एक्सपीरियंस पर वे एक बुक भी लिखने वाले हैं जिसका नाम है 'लेट्स रोम'। सोशल मीडिया पर भी वे अपने रोज के एक्सपीरियंस को शेयर करते हैं।



Browse By Tags



Other News