ऐ सत्रहवां साल....🌹🌹
| Rainbow News - Jan 1 2018 4:16PM

अलविदा कैसे कह दूं
इस साल को
या पिछले साल को या
बीते कुछ दशको को
प्रकृति की समस्त रचनाएँ वही
मैं कैसे सब पुराना कह दूँ

चॉद वही. सूरज वही
टिमटिम करते तारे वही
सुनहरी चाँदनी व भोर वही
मेरे सारे संजोए हुए
अरमान अब भी वही
मैं किसे अलविदा कह दूँ

ऊपर नीला अम्बर वही
नीचे गहरा सागर वही
एक पथ की राहे वही
कुछ मोड़. खड़े वही
मेरा हँसना और हँसाना वही
मै किसे अलविदा कह दूँ

मेरे सारे अनोखे रिश्ते वही
कुछ प्रीत प्यार सौगात वही
कुछ बन्धन मन के वही
कुछ रीत जगत की वही
मै और मेरा अहसास भी वही
मै किसे अलविदा कह दूँ

छुपी हुए होते है अरमान
बहुत सारे गम और ख़ुशी
बीतते हुए महसूस करा जाते
सारे भावो को बस यादो मे
लम्हा लम्हा जगा जाता है
में किसे अलविदा कह दूँ

बस लबरेज रहे मन मेरा
रंग रोगन सा नित नित नया
हर कैलेण्डरो के पन्नो मे
छपे रहे हर खुशी उल्लास
जीवन की मधुर अनुभवो से
आच्छादित हो मन से मन
अगले से अगले बरस
बरसो से अगले बरसो तक



Browse By Tags



Other News