पर्यटकों के लिए ताजमहल का दीदार करना होगा मुश्किल!
| Rainbow News - Jan 3 2018 3:03PM

दुनिया भर के पर्यटकों के बीच लोकप्रिय ताजमहल को लेकर केंद्र सरकार अहम फैसला लेने जा रही है। वीकएंड और छुट्टियों के दिन पर्यटकों की बड़ी तादाद से निपटने के लिए नई योजना पर विचार किया जा रहा है। इसके तहत ताजमहल देखने की अविध तीन घंटे तक सीमित करने के अलावा पर्यटकों की संख्या भी तय कर दी जाएगी।

इस पर अमल होने की स्थिति में एक दिन में 40,000 पर्यटकों को ही ऐतिहासिक इमारत का दीदार करने का मौका मिल सकेगा। भारतीय पुरातत्व विभाग (एएसआई) की सलाह पर केंद्र सरकार जल्द ही फैसला ले सकती है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय और एएसआई के अधिकारियों के बीच हुई बैठक में इस पर विचार-विमर्श किया गया है।

केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने बताया कि बैठक में एएसआई ने पर्यटकों की संख्या और समय तय करने के अलावा कई अन्य सुझाव दिए हैं, ताकि पर्यटकों को ताज का दीदार करने में परेशानियों का सामना न करना पड़े। साथ ही किसी भी तरह के हादसे को रोका जा सके। केंद्रीय मंत्री ने स्पष्ट किया कि इन सलाहों को मानने के अलावा सरकार के पास और कोई विकल्प नहीं है।

मौजूदा नियमों के तहत ताजमहल देखने के लिए आने वाले पर्यटकों की संख्या तय नहीं है। साथ ही एक बार अंदर घुसने के बाद लोग जितना चाहे उतना वक्त बिता सकते हैं। एएसआई के एक अधिकारी ने बताया कि पर्यटकों की संख्या सीमित करने पर 40,000 टिकटों की बिक्री के बाद बंद ऑनलाइन और ऑफलाइन काउंटर बंद कर दिए जाएंगे।

इसके अलावा तहखाने को देखने के लिए अलग से टिकट बेचने का प्रस्ताव भी दिया गया है। मालूम हो कि तकरीबन दो महीने पहले सीआईएसएफ ने एएसआई से पर्यटकों की संख्या को नियंत्रित करने का अनुरोध किया था। अर्धसैनिक बल के जवान ताजमहल की सुरक्षा के अलावा पर्यटकों के प्रवेश का प्रबंधन करते हैं।



Browse By Tags



Other News