महिला बॉक्सरों ने लौटाईं गिफ्ट में मिली गाय, कहा- दूध देती नहीं, लात मारती हैं
| Rainbow News - Jan 6 2018 2:04PM

नई दिल्ली। हरियाणा सरकार ने बीते साल महिला बॉक्सरों को गाय गिफ्ट की थी जिसके बाद देश भर में बहस छिड़ गई थी। सरकार ने राष्ट्रीय महिला चैंपियनशिप में पदक जीतने वाली छह महिला मुक्केबाजों को गाय उपहार में दिया था। लेकिन यह कदम उन तीन मुक्केबाजों के लिए उलझन भरा साबित हो रहा है। जिन्होंने गुवाहाटी में महिलाओं की राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप में पदक जीता था।

मुक्केबाजों ने यह कहते हुए गायें लौटा दी है कि वो दूध नहीं देतीं और लात मारती हैं। रोहतक निवासी ज्योति गुलिया ने कहा कि मेरी मां ने पांच दिनों तक गाय की खूब सेवा की, इसने दूध नहीं दिया उल्टा लात अलग मारी। ज्योति ने कहा कि उनकी मां को गाय ने लात मारी जिसके चलते उन्हें चोट लगी, ऐसे में उन्होंने सरकार का गिफ्ट उन्हें वापस कर दिया। ज्योति ने कहा कि हम कोई मदद नहीं कर सकते अगर गाय दूध नहीं देगी। हम अपनी भैंसों के साथ ही खुश ज्योति ने कहा हम अपनी भैंसों के साथ ही खुश हैं।

अभी तक, ज्योति, नीतू और साक्षी ने गायों को वापस लौटा दिया है और कहा कि वो दूध नहीं देतीं और उनके परिवार के सदस्यों को उनके सींग के साथ चोट लगी है। ज्योति के कोच विजय हुड्डा ने कहा कि मुक्केबाजों को एक स्थानीय नस्ल की गाय दी गई थी। उन्होंने कहा, "अगर गाय दूध नहीं देगी तो वह खिलाड़ियों के किसी काम की नहीं। उन्होंने कहा, जो साक्षी का पिता और नीतू के चाचा हैं, ने भी पुष्टि की कि दूध नहीं देने के कारण दोनों महिला मुक्केबाजों ने अपनी गायों को वापस कर दिया।



Browse By Tags



Other News