पूर्व सांसद कमला प्रसाद सिंह का निधन
| -Ramjee Jaiswal - Jan 13 2018 5:07PM

जौनपुर। जनपद के विकास पुरूष पूर्व सांसद कमला प्रसाद सिंह का शनिवार को हृदय गति रूक जाने से निधन हो गया। लगभग 84 वर्षीय श्री सिंह पिछले कई दिनांे से बीमार चल रहे थे। उन्होंने वाराणसी के एक निजी चिकित्सालय में अंतिम सांस लिया। जनपद के बदलापुर क्षेत्र के ढेमा के मूल निवासी श्री सिंह नगर के हुसेनाबाद में काफी दिनों से रहते थे। वह विधायक, सांसद के अलावा जिला पंचायत अध्यक्ष रह चुके थे तथा कई शिक्षण संस्थानों के प्रबन्धक भी रहे थे। उनके निधन की खबर लगते ही जिले में शोक की लहर दौड़ गयी। अंतिम दर्शन के लिये हुसेनाबाद स्थित उनके आवास पर लोगों का तांता लगा रहा। उनका अंतिम संस्कार नगर से सटे राम घाट पर हुआ।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी माइनारिटी डिपार्टमेंट के चेयरमैन व पूर्व एमएलसी सिराज मेंहदी ने श्री सिंह के निधन पर शोक जताते हुये कहा कि उनके निधन से कांग्रेस व जौनपुर ने एक स्वच्छ क्षवि के व्यक्तित्व को खो दिया जिसकी कमी सभी को खलेगी। जिले में जो भी विकास कार्य हुये, उसमें स्व. सिंह का विशेष योगदान रहा है, इसीलिये उन्हें विकास पुरुष कहा जाता था । श्री सिंह ने जिले को विकास की मुख्य धारा से जोड़ा था। आज उनके निधन से सभी को गहरा दुख हुआ है।

इसी क्रम में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक शनिवार को प्रान्तीय उपाध्यक्ष रमेश सिंह की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय हुई। बैठक में उपस्थित जनों ने श्री सिंह के निधन पर दुःख व्यक्त किया। इस मौके पर शिक्षक नेता श्री सिंह ने कहा कि स्व. सिंह बहुत लोकप्रिय व ईमानदार जनप्रतिनिधि थे। साथ ही शिक्षा के उन्नयन व उत्थान हेतु सदैव संगठन के लिये सकारात्मक दिशा में सहयोग को तत्पर रहते थे।

शोकसभा में प्रदेश मंत्री डा. राकेश सिंह, निवर्तमान जिलाध्यक्ष नरसिंह बहादुर सिंह, निवर्तमान जिला मंत्री सुधाकर सिंह, जय किशुन यादव, शशि प्रकाश मिश्र, डा. प्रमोद श्रीवास्तव, इन्द्रपाल सिंह, डा. प्रविन्द्र सिंह, प्रमोद सिंह, दिलीप सिंह, दयाशंकर यादव, ठाकुर प्रसाद तिवारी, सतीश सिंह, चन्द्र प्रकाश दूबे, जय प्रकाश सिंह, लाल साहब यादव, गजाधर राय, अजय सिंह, संतोष सिंह सहित तमाम शिक्षक उपस्थित रहे। अन्त में आत्मा की शान्ति के लिये दो मिनट का मौन रखकर ईश्वर से प्रार्थना किया गया।



Browse By Tags



Other News