केरल के प्रोफेसर का घटिया बयान- जींस पहनने वाली महिलाएं देती हैं किन्‍नरों को जन्म
| Rainbow News - Apr 4 2018 4:55PM

तिरुअंनतपुरम। महिलाओं के पहनावे को लेकर अकसर विवादित बयान सामने आते रहे हैं लेकिन इस बार जो घटिया बयान सामने आया है उसे जानकर आप सोच में पड़ जाएंगे। इस बार महिलाओं के जींस पहनने को लेकर आपत्तिजनक बात कही गई है। केरल में खुद को स्‍टूडेंट काउंसलर बताने वाले प्रोफेसर डॉ रजित कुमार ने दावा किया है कि जींस पहनने वाली महिलाएं किन्‍नरों को जन्‍म देती हैं।

प्रोफेसर रजित ने यह भी कहा कि अभिभावकों के विद्रोही स्वभाव के कारण ही बच्चे आत्मकेंद्रित होने लगते हैं। इसके बाद राज्‍य सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी में है। प्रदेश सरकार ने प्रोफेसर के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए आदेश दिए हैं कि उन्‍हें किसी भी कार्यक्रम में न बुलाया जाए लेकिन राजित अब भी अपने बयान पर डटे हुए हैं। कासरगोद में एक काउंसलिंग सेशन के दौरान राजित ने किन्‍नर और शारीरिक रूप से कमजोर बच्‍चों के पैदा होने का अजीबोगरीब वैज्ञानिक कारण बताया।

उन्‍होंने कहा कि जो महिलाएं जींस पहनती हैं और अपने नारीत्‍व के साथ समझौता करती हैं, उनके किन्‍नर बच्‍चे पैदा होते हैं। राजित ने आगे बताया कि अच्‍छे बच्‍चे उनके पैदा होते हैं, जिनके पिता पुरुष और माता महिलाओं की तरह रहते हैं। लेकिन जब पिता अपने पुरुषत्‍व और मां अपने नारीत्‍व के साथ समझौता करती है तो उनकी पैदा होने वाली बेटी में पुरुषों वाले लक्षण होते हैं और अंतत: बच्‍चा किन्‍नर पैदा होता है। राजित इतने पर ही नहीं रुके। उन्‍होंने यह भी कहा कि विद्रोही स्‍वभाव के पुरुष और महिलाओं से पैदा होने वाले बच्‍चे ऑटिज्‍म का शिकार होते हैं।

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब डॉ.रजित ने इस तरह का आपत्तिजनक बयान दिया हो। विभिन्न कॉलेजों और सरकारी दफ्तरों में अवेयरनेस और काउंसलिंग सेशन के नाम पर वे इस तरह की टिप्पणियां पहले भी कर चुके हैं। यू-ट्यूब और फेसबुक सरीखे कई प्लैटफॉर्म्स पर डॉ.रजित के वीडियो और क्लिप्स मौजूद हैं। वे इनमें लोगों के सामने इसी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणियां करते नजर आते हैं।

फिर भी यू-ट्यूब पर उन्हें फॉलो करने वालों की संख्या ढाई हजार है। प्रोफेसर रजित के आपत्तिजनक बयानों की वजह राज्य सरकार ने उनके खिलाफ कार्रवाई की है। शिक्षा मंत्री केके शैलजा ने सभी सरकारी विभागों और एजेंसियों को एक नोटिस जारी किया । इसमें कहा गया कि वे अपने यहां किसी भी कार्यक्रम में डॉ.रजित को आमंत्रण न दें।



Browse By Tags



Other News