यूपी सीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक, खेत में उतारा गया हेलीकॉप्टर
| Rainbow News - May 15 2018 3:43PM

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के कासगंज दौरे पर अधिकारियों के हाथ पांव उस वक्त फूल गए जब सीएम का हेलीकॉप्टर सुरक्षा कारणों के चलते खाली खेत में उतारना पड़ा। सुरक्षा मानकों के चलते पायलट द्वारा लिये गए इस निर्णय के कारण तमाम अव्यवस्थाएं फैल गईं और मौके पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई। बावजूद इसके सीएम शांत रहे और पैदल ही पीड़ित परिवार से मिलने पहुंच गए।

हैलीपेड निर्माण में गड़बड़ी और मुख्यमंत्री की सुरक्षा के मामले में गंभीर चूक को लेकर तमाम सवाल उठने लगे हैं। तमाम आला अफसर सीएम के आगमन की तैयारियों में जुटे थे, मगर इंतजामों का जायजा लेने में हद दर्जे की लापरवाही बरती गई, इस मामले से इसकी पोल खुल गई है। सुरक्षा के जानकार हादसे की आशंका से भी इनकार नहीं कर रहे हैं। 

खेत में हेलीकॉप्टर उतरने के बाद करीब 200 मीटर पैदल चलकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अंधड़ में मारे गए मृतकों के परिवारों से मिलने पहुंचे। उन्होंने यहां घटनास्थल भी देखा। पीड़ित परिवारों से बात की। मृतकों के परिजनों के हाल-चाल लेने के साथ उनका नाम और पीड़ा पूछते हुए ढांढस बंधाया।

यहां करीब 20 मिनट तक सीएम रुके। इस दौरान सांसद राजवीर सिंह से पीड़ित परिवार को 4-4 लाख की सहायता राशि के चेक 3 मृतकों के परिवार को दिलाया। उन्होंने पीड़ित परिवार से घायलों के उपचार के बारे में पूछताछ की। पीड़ितों के अच्छे उपचार के लिए डीएम को निर्देश दिए।

यहां से करीब 100 मीटर पैदल चलकर गली से निकलने के बाद, सहावर के डकैती पीड़ित दो परिवारों से भी सीएम ने मुलाकात की। उन्हें मुआवजा राशि के चेक दिए। वहां रोती महिलाओं को ढांढस बंधाकर आश्वासन दिया। इसके बाद हेलीकॉप्टर से कासगंज कलक्ट्रेट पहुंचे। यहां मुख्यमंत्री ने अफसरों के साथ मीटिंग लिया।



Browse By Tags



Other News