अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर सौ से अधिक युवाओ ने ली शपथ
| Rainbow News - Jun 26 2018 4:30PM

छतरपुर। नौगाव से लगा सीमावर्ती धौर्रा ग्राम में अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर महोबा जनपद क्षेत्र के ग्राम धौर्रा में मादक पदार्थो के सेवन से होने बाले दुष्परिणामों के बारे में दलित बस्तिओ में जन जागरूकता अभियान गोष्ठीओ का आयोजन बुंदेलखंड के सामाजिक कार्यकर्ता श्री संतोष गंगेले कर्मयोगी ने किया। जिसमे एक सौ से अधिक युवाओ को विचारो के माध्यम से प्रेरित कर संकल्प दिलाया। इसके पूर्व ग्राम के 10 बेटिओ को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत उनका चरण बंदन किया, पुष्पमाला पहनकर सम्मान किया। साहित्य सामग्री देकर शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता का सन्देश दिया।

समाजसेवी संतोष गंगेले ने अपने विचार रखते हुए कहा की हमारे इतिहास के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस या मादक पदार्थ निषेध दिवस नशीली वस्तुओ और पदार्थो के सेवन का विश्व स्तर पर सर्वे करने पर जो परिणाम प्राप्त हुए जिस पर संयुक्त राष्ट्र संघ ने बैठक कर 7 दिसंबर 1987 को प्रस्ताव पारित कर 42 /112 राष्ट्रीय स्तर पर 26 जून को अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस मानाने का निर्णय हुआ ा वर्तमान समय में युवावर्ग में सर्वाधिक नशा अल्कोहल, विस्की, सिगरेट, तम्बाखू, स्मैक, नशीली दबाएं अफीम, चरस सहित तरह तरह के विभिन्न नशा की श्रेणियाँ जो व्यक्ति अपनी हैसियत और सामाजिक माहौल के अनुसार नशा करते है। आज चिकित्सालय और चिक्त्सिक काम साबित हो रहे है। 

समाजसेवी संतोष गंगेले ने अपने विचार रखने के वाद धौर्रा ग्राम के दुर्गा प्रसाद अहिरवार ने समाज के बीच नशा न करने की शपथ ली। मुकेश प्रजापति सोनू अहिरवार ने स्वंम तम्बाखू के सेवन का त्याग कर समाज में युवाओ को नशा न करने को समझाने में सहयोग करने पर बल दिया. ग्राम जगतपुर गढ़िया ग्राम के वयोबृद्ध श्री मिहीलाल अहिरवार  श्री गणेशा अहिरवार का भी सम्मान किया गया। ग्राम के भरत अहिरवार, बबलू। दीपू संतोष नीरज प्रमोद दिनेश अहिरवार ने  समाजसेवी संतोष गंगेले ने अपने विचार को जीवन में अपनाने का संकल्प लिया।



Browse By Tags



Other News