पामेला ने रुद्राक्ष की माला उतारने से किया इनकार तो पति ने दे दिया तलाक
| Rainbow News - Jul 3 2018 6:13PM

अमेरिका की रहने वाली पामेला ईव सोलोमन को भारतीय संस्कृति से इतना प्यार हो गया कि वो सब कुछ छोड़ने को तैयार हो गई। पामेला ने रुद्राक्ष की एक माला पहनी थी, जिसे लेकर उसके और उसने पति के बीच टकरार हो गया। बात तलाक तक पहुंच गई, लेकिन पामेला पीछे नहीं हटी। उन्होंने माला उतारने से साफ-साफ इनकार कर दिया। मामला कोर्ट तक पहुंच चुका है, लेकिन पामेला अब मानने को तैयार नहीं है।

पामेला को भारतीय संस्कृति बेहद पसंद आ गई। भारतीय परंपरा से प्रभावित होकर उन्होंने रुद्राक्ष की माला धारण कर दी, लेकिन पामेला के पति को ये बाद बिल्कुल पंसद नहीं आई। उन्होंने इस पर आपत्ति जताई और उसे खोलकर हटाने को कहा, लेकिन पामेला ने माला उतारने से मना कर दिया। रुद्राक्ष की माला को लेकर पामेला और उनके पति के बीच टकरार शुरू हो गई। विवाद तलाक तक पहुंच गया और पति ने पामेला से तलाक मांग लिया।

पामेला को पति का ये फैसला पसंद नहीं आया। वो पहले को थोड़ी आहत हुई, लेकिन बाद में उन्होंने सोचा कि अब वो आजाद हो चुकी हैं। अब वो भारतीय संस्कृति को और करीब से जान सकेंगी। पति के साथ रिश्ते में आई कड़वाहट पर पामेला ने कहा कि अमेरिका के लोगों में आत्मीयता और संवेदना है, मगर भावनाओं की कमी है। पति से अलग होने के बाद पामेला हरियाणा के कैथल के फरल में अपने धर्मभाई सतीश राणा के घर में रह रही हैं।

वो वहां अपने भाई के स्कूल में ही बच्चों को पढ़ाने का काम कर रही हैं और भारत की संस्कृति और सभ्यता को और करीब से जान रही हैं। उन्होंने बताया कि साल 2009 में उन की एक महिला मित्र ने उन्हें पहली बार भारतीय संस्कृति से परिचित करवाया। उनकी मित्र ने उन्हें एक डीवीडी दी, जिसे देकने के बाद वो भारतीय परपंरा से प्रभावित हो गई। वो स्वामी नित्यानंद की भक्त थी, लेकिन साल 2010 नें जब उनपर केस दर्ज हुआ तो उनके सारे अनुयायी उन्हें छोड़कर चले गए।

केवल 100 के लगभग अनुयायी रहे, जिनमें वो भी एक थी। साल 2012 में नित्यानंद के शिष्यों ने उसे संगठन से बाहर कर दिया, जिसके बाद वो अमेरिका लौट गई और फिर अप्रैल 2018 में भारत लौटी। जब से वो अपने धर्म भाई के साथ रह रही हैं। वो हमेशा के लिए भारत में बसना चाहती हैं।



Browse By Tags



Other News