कांवड़ियों के हुड़दंग से सुप्रीम कोर्ट नाराज, कार्रवाई का दिया सख्त आदेश
| Agency - Aug 10 2018 3:24PM

नई दिल्ली। कांवड़ियों के हंगामा का मामला आज सुप्रीम कोर्ट में उठा। सुप्रीम कोर्ट में अटॉर्नी जनरल में कहा है कि कांवड़िया हंगामा करते रहते हैं और पुलिस देखती रहती है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पूछा है कि सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों को एफआईआर तक दर्ज नहीं की जाती है।

अटॉर्नी जवरल ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट से पुलिस अधीक्षकों की जिम्मेदारी तय करने को कहा है। सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने गंभीर रुख अपनाते हुए राज्यों की पुलिस को निर्देश दिया कि वे ऐसे कांवड़ियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें, जो कानून को अपने हाथ में लेकर मारपीट की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

आपको बता दें कि पिछले एक सप्ताह के दौरान कांवड़ यात्रियों ने दिल्ली के साथ यूपी के मुजफ्फनगर, सहारनपुर, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, बुलंदशहर जैसी जगहों पर जमकर उत्पाद मचाया। आस्था के नाम पर देश की राजधानी दिल्ली में भी कांवड़ियों की गुंडागर्दी देखने को मिली। दिल्ली के मोती नगर इलाके में कावड़ियों सड़क हादसे के बाद खूब हंगामा किया और इसके बाद कार के साथ तोड़ फोड़ की।



Browse By Tags



Other News