माथे पर लगी बिंदी के चलते महिला को नहीं मिली पेंशन
| Agency - Aug 10 2018 4:20PM

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में एक महिला की पेंशन फाइल इसलिए रिजेक्ट कर दी गई क्योंकि उसने माथे पर बिंदी लगाई थी। हैरान कर देने वाले इस मामले को दिल्ली के विधानसभा में आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने उठाया है। अलका ने विधानसभा में इस मसले को उठाते हुए कहा कि गुलाबबाग इलाके की एक विधवा महिला की पेंशन की फाइल इसलिए रिजेक्ट कर दी गई क्योंकि उसने माथे पर बिंदी लगा रखी थी।

दरअसल दिल्ली सरकार की तरफ से विधवा महिलाओं को पेंशन का प्रावधान है। इसी प्रावधान के तहत गुलाबबाग इलाके की एक विधवा महिला ने पेंशन के लिए आवेदन दिया। उसने आवेदन फॉर्म में जो तस्वीर लगाई उसमें उनके माथे पर बिंदी लगी हुई थी। उस बिंदी की वजह से 7 महीने बाद उसकी फाइल को रिजेक्ट कर दिया गया। जब महिला ने इस बारे में जानकारी मांगी तो अधिकारियों ने कहा कि वो फॉर्म में अपनी फोटो बदल दे।

आप पार्टी की विधायक अलका लांबा ने गुरुवार को इसे विधानसभा में उठाया। अलका ने पूछा कि क्या सफेद साड़ी पहने से ही कोई विधवा लगेगी? क्या विधवा महिलाएं माथे पर बिंदी नहीं लगा सकती? अलका ने एक और मांग उठाते हुए कहा कि अधिकारियों ने एक विकलांग युवक की फाइल इसलिए रिजेक्ट कर दी, क्योंकि वो तस्वीर में देखने से विकलांग नहीं लग रहा था। अलका लांबा के सवाल पर उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि ये पूरी तरह गलत है।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि सरकार के संज्ञान में ऐसा कोई मामला अभी तक नहीं आया है। अगर किसी के साथ ऐसा हुआ है तो वो उनसे मिले।उन्होंने भरोसा दिलाया कि अगर ये शिकायत सच हुई तो फॉर्म अस्वीकार करने वाले के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने अपने विधायकों से भी कहा कि अगर ऐसा कोई मामला उनके संज्ञान में आए तो इसकी शिकायत सीधे उप मुख्यमंत्री से की जाए।



Browse By Tags



Other News