‘रिदम’ ने किया प्रतिवाद सभा का आयोजन
| Rainbow News - Sep 22 2018 11:33AM

वाराणसी। मॉब लिंचिंग या भीड़ द्वारा हिंसा और आतंकवाद एक है। दोनों पर एक ही कानून के तहत कार्यवाही हो। विपक्ष को एकजुट हो कर हिंसात्मक कार्यवाही को बढ़ावा देने वालो से लड़ना होगा। मैं पूरे देश मे यात्रा ले कर निकलूंगा इन ताकतों के खिलाफ , गुजरात मॉडल बिल्कुल फेल है, काशी को उसके जैसे विकास की कोई जरूरत नही। ये बाते विख्यात समाजसेवी और आर्यसमाज के सन्त स्वामी अग्निवेश ने आज बनारस कचहरी अम्बेडकर प्रतिमा के निकट हुई जनसभा में अपने भाषण के दौरान उपस्थित विशाल जनसमूह के समक्ष कही।

स्वामी जी ने कहा आर्यसमाज में स्वामी दयानंद ने सत्यार्थ प्रकाश में लिखा है कि अंधे फॉलोवर मत बनिये आप अपना सत्य स्वयं तलाश करें। व्यक्ति का अधिनायकत्व हो या विचार का यह हमारे देश की परंपरा नही। स्वामी जी के साथ आये स्वामी आर्यवेश जी ने भी कहा कि देश को बचाना है तो हम सब को धर्म जाती दल से ऊपर उठ कर साथ आना होगा वरना देश को संविधान और रूल ऑफ लॉ को खत्म कर ये हिंसक ताकते गृह युद्ध की तरफ ले जा रही है। इस राजनीति से देश को बदलने की उम्मीद मत रखिये। कार्यक्रम में इंसाफ मंच की तरफ से अमान अख्तर ने कहा कि कर्बला के शहीद के वारिस है हम डर कर पीछे नही हटेंगे।

इन गलत ताकतों से लड़ेंगे। सभा मे फादर आनन्द ने बनारस की कुछ घटनाओं का उल्लेख किया जंहा जानबूझ कर समाज का आपसी तालमेल बिगाड़ने की पिछले दिनों कोशिश की गई है। जागृति राही ने अपने वक्तव्य में हैदराबाद तेलंगाना में हुई जातिगतऑनर किलिंग की घटनाओं की बात की और कहा कि अहिंसक समाज रचना की ओर संगठित प्रयास की जरूरत है। महिलाओ को धार्मिक जातिगत हिंसा में सर्वाधिक नुकसान होता है। आज के कार्यक्रम में स्वामी अग्निवेश का स्वागत फादर ने, मनोहर मानव का स्वागत वरिष्ठ पत्रकार लारी नेऔर स्वामी आर्यवेश का स्वागत मूलचंद जी ने अंगवस्त्र पहना कर किया।

कार्यक्रम का संचालन डॉ अनूप श्रमिक संयोजक रिदम ने किया। धन्यवाद ज्ञापन एस  पी राय ने किया। आज के कार्यक्रम में श्री नन्दलाल मास्टर, एडवोकेट राजेश एडवोकेट मीना, सनोज, दया, मूसा आजमी, कामता प्रसाद ,जगन्नाथ कुशवाहा, अरुण प्रेमी ,जितेंद्र यादव  संजीव सिंह , शालिनी यादव  लेनिन , सुरेश,डॉ बबिता आदि बनारस के तमाम सामाजिक राजनीतिक कार्यकर्ताओ वकीलों पत्रकारों की भी उपस्थिति रही।

Report- डॉ. अनूप श्रमिक

संयोजक- राष्ट्रीय इंकलाबी दलित आदिवासी मंच (रिदम) 9956031010



Browse By Tags



Other News