आलापुर पूर्ति निरीक्षक कार्यालय में चल रहा है भ्रष्टाचार का खुला खेल
| -Dushyant Kumar - Oct 6 2018 5:38PM

अम्बेडकरनगर। आलापुर तहसील परिसर में स्थित पूर्ति निरीक्षक कार्यालय में भ्रष्टाचार का खुला खेल फर्रुखाबादी चल रहा है ऐसा नहीं है कि जिम्मेदार इससे अनजान हैं सब कुछ जानने के बावजूद जिम्मेदारों की चुप्पी समझ से परे है। बता दे कि आलापुर तहसील परिसर में पूर्ति निरीक्षक का कार्यालय स्थित है। जिसमें रामनगर व जहांगीरगंज विकासखंड के कार्ड धारको के खाद्यान्न का निर्धारण होता है।

बताया जाता है कि अक्सर पूर्ति निरीक्षक कार्यालय में कोटेदारों का जमावड़ा लगा रहता है पूर्ति निरीक्षक शैलेंद्र शुक्ला द्वारा कई निजी कर्मियों को रखा गया जो भ्रष्टाचार की जड़ों को मजबूत बनाने में जुटे रहते हैं। कार्यालय में कोटेदार कपिल देव शर्मा कार्ड धारको से नाम बढ़ाने घटाने के नाम पर 150 से लेकर 200 की वसूली तथा उचित दर विक्रेताओं से 1000 से लेकर ₹2000 की वसूली करता रहता है जिसको लेकर कोटेदारों में आक्रोश भी रहता है लेकिन वह खुद पर कारवाई के डर से अपनी शिकायत नहीं कर पाते हैं।

तहसील कार्यालय में भ्रष्टाचार की जड़ें गहरी होती जा रही लेकिन इस पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। अब सवाल यह उठता है कि आलापुर तहसील में स्थित पूर्ति निरीक्षक कार्यालय में निजी कर्मियों की आवश्यकता क्या है? राशन कार्ड फीडिंग के लिए कुछ निजी कर्मी लगाए गए हैं लेकिन कार्यालय में कोटेदार कपिल देव शर्मा अक्सर फाइलों को ढोते देखे जाते। इस संबंध में पूर्ति निरीक्षक शैलेंद्र शुक्ला से उनका पक्ष जानने के लिए मोबाइल नंबर 94 1557 3113 पर कई बार संपर्क किया गया लेकिन उनका फोन नहीं रिसीव हुआ।



Browse By Tags



Other News