लोस चुनाव 2019 : वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे हार्दिक पटेल
| Rainbow News - Oct 9 2018 3:02PM

देश में अगले साल आम चुनाव होने हैं, लेकिन अभी से ही तमाम पार्टियां रणनीति बनाने में जुटी है। सत्ता पक्ष और विपक्ष एक दूसरे को मात देने के लिए रणनीति बना रही है। इसी कड़ी में जानकारी मिल रही है कि प्रधानमंत्री मोदी को उनके ही लोकसभा क्षेत्र में टक्कर देने के लिए विपक्ष को एक ऐसे चहरे की तलाश है जो उन्हें चुनौती दे सके। जानकारी के मुताबिक विपक्ष गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को वाराणसी से लोकसभा का चुनाव लड़ाना चाहती है।

खबरों के मुताबिक यूपी में महागठबंधन की संभावनाओं के बीच बनारस में विपक्ष एक ही साझा उम्मीदवार उतारने की रणनीति पर काम कर रहा है। पिछली बार जब मुकाबले में अरविंद केजरीवाल थे तब मोदी को बनारस में 56 फीसदी वोट मिले थे।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की संसदीय सीट अमेठी में केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी की सक्रियता सांसद से कम नहीं है। 2014 में नजदीकी मुकाबले में हारने के बाद स्मृति ने अमेठी को दूसरा घर बना लिया है। यूपी से राज्यसभा सांसद बनने के बाद केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने रायबरेली को अपना नोडल क्षेत्र बना लिया है। उनकी संसदीय निधि से जमीन पर काम उतार बीजेपी की रणनीति सीधे तौर पर मतदाताओं को यह बताने की है कि यहां से हारने के बाद भी हम आपके साथ खड़े हैं।

पिछले साल रायबरेली की रैली में अमित शाह ने जनता से रायबरेली की रंगत बदलने का वादा भी किया था। वहीं लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह की राह में भी 2019 में विपक्ष की कवायद मजबूत रोड़े अटकाने की है। सूत्रों की मानें तो अगर महागठबंधन हुआ तो लखनऊ सीट से कांगेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी दावेदार हो सकते हैं। 1996 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के खिलाफ समाजवादी पार्टी के टिकट पर लड़ राजबब्बर ने अपना एक रिकार्ड बनाया था।



Browse By Tags



Other News