सावधान! ऐसे फलों की खरीद व सेवन से बचें: राजवंश प्रकाश......देखें वीडियो
| Posted by- Editor - Nov 1 2018 3:05PM

व्हाट्स एप्प के जरिए अमूमन लोग ऐसे मैसेजेज भेजते रहते हैं जिनका जन सरोकारों से कुछ भी लेना-देना नहीं होता। अधिकांश तो अपनी तारीफ पाने के लिए घरेलू, पारिवारिक, व्यक्तिगत फोटोज भेजते हैं तो अधिकांश अपने ऐसे विचार थोपते रहते हैं जो अवश्य ही उबाऊ कहे जा सकते हैं। जन स्वास्थ्य के प्रति अन्य महकमा और लोग भले ही गम्भीर न हों परन्तु खाद्य सुरक्षा महकमें के मुखिया राजवंश प्रकाश श्रीवास्तव अवश्य ही सचेष्ट कहे जा सकते हैं। सोशल मीडिया के जरिए अम्बेडकरनगर जनपद के खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन महकमें के मुखिया अभिहित अधिकारी राजवंश प्रकाश श्रीवास्तव ने हमें एक ऐस वीडियो बजरिए व्हाट्सएप्प भेजा है जिसका प्रकाशन हम इस एपिसोड में कर रहे हैं। हालांकि उक्त वीडियो विदेशों में हुई घटनाओं पर आधारित है परन्तु उसमें उल्लेख की गई जानकारी के प्रति यहाँ के लोगों का भी जागरूक होना आवश्यक है।

इस सम्बन्ध में राजवंश प्रकाश का कहना है कि खाद्य पदार्थ एवं फलों में इस तरह की बातें यहाँ भी हो सकती है। लोगों का जगरूक होना और स्टोर किए गए फलों की खरीददारी करते समय वीडियो में दी गई जानकारी रखना जरूरी है। यदि इस जिले में भी कहीं फल विक्रेताओं के यहाँ या स्टोरों में रखे गए फलों में सन्देहास्पद दाग, धब्बे एवं फंफूदी दिखाई पड़े तो उसका सेवन कतई न करें और तत्काल प्रभाव से महकमे को इससे अवगत कराएँ। उन्होंने बताया कि बीते दिनों एक अभियान चलाकर उनकी टीम द्वारा कई फल विक्रेताओं के यहाँ चेकिंग कर सड़े-गले फलों विशेषतौर पर केलों को नष्ट कराया गया था, यह कार्य अब भी बदस्तूर है। वह स्वयं और उनकी टीम का हर ओहदेदार सदस्य जनस्वास्थ्य के दृष्टिगत हमेशा सजग व संवेदनशील रहता है। मैं अभिहित अधिकारी के रूप में खाद्य सुरक्षा अधिकारियों द्वारा उनके क्षेत्रों में की गई चेकिंग व छापामारी जैसी कार्रवाई की निगरानी करता रहता हूँ।

  राजवंश प्रकाश श्रीवास्तव, अभिहित अधिकारी

अभिहित अधिकारी श्रीवास्तव ने बताया कि चाहे पर्व, त्योहार हो या आम दिन खाद्य सुरक्षा विभाग जनपद के ग्रामीण कस्बाई और शहरी इलाकों में भ्रमणशील रहकर खाद्य पदार्थ व फल-सब्जी विक्रेताओं पर अपनी नजर रखता है। हमारी सक्रियता से मिलावट व अखाद्य पदार्थों, सड़े-गले हानिकारक फलों की बिक्री पर काफी हद तक अवश्य ही नियंत्रण लगा है। हम ब्राण्डेड नामों से नकली (डुप्लीकेट) खाद्य सामग्रियों पर भी नजर रखते हैं। फास्टफूड, केक, नमकीन, दालमोठ, बिस्कुट एवं खाद्य तेलों पर विशेष फोकस रहता है। डी.ओ. राजवंश प्रकाश ने कहा कि हम आम जन (ग्राहक एवं उपभोक्ता) से सहयोग की अपेक्षा करते हैं। कहीं किसी भी प्रकार की गड़बड़ी मिलने पर हमें नाम, पते के साथ अवगत कराया जाए हम शिकायतकर्ता/सूचनादाता का नाम गोपनीय रखते हुए उचित, आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

देश के सशक्त मीडिया से अपेक्षा करते हैं कि वह जनस्वास्थ्य से सम्बन्धित उन खबरों का प्रकाशन व प्रसारण अवश्य करे जिनमें मुनाफा कमाने के लिए व्यवसायियों द्वारा नियम-कानून की अनदेखी की जाती हो। अनर्गल संवादों के प्रकाशन से सक्रिय महकमें के कर्मठ पदाधिकारी आहत व हतोत्साहित होते हैं। बहरहाल! हमने जो वीडियो भेजा है जनहित में उसका अग्रसारण व प्रकाशन किया जाए, जिससे हर आम खास में जागरूकता पैदा हो। 

देखें वीडियो-



Browse By Tags



Other News