डॉ काजी की याद में स्मृति सभा का आयोजन
| Rainbow News - Nov 13 2018 3:41PM

लखनऊ। डॉ राही मासूम रजा साहित्य एकेडमी के तत्वावधान में उर्दू के मशहूर साहित्यकार पद्मश्री डॉ काजी अब्दुल सत्तार साहब की याद में स्मृति सभा का आयोजन लखनऊ में मीराबाई मार्ग स्थित आफिसर्स कालोनी में किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता एकेडमी के महामंत्री रामकिशोर ने किया एवं संचालन करामत डिग्री कालेज के उर्दू विभाग की अध्यक्ष व उर्दू की प्रसिद्ध लेखिका डॉ शबनम रिजवी ने किया।

डॉ काजी अब्दुल सत्तार साहब को याद करते हुए वरिष्ठ साहित्यकार श्री शकील सिद्दीकी ने कहा कि उनका साहित्य बेमिसाल है, उनकी शैली, उनकी भाषा और उनका कथानक का प्रस्तुतीकरण अद्वितीय है। वरिष्ठ लेखक मोहम्मद मसूद ने बताया कि काजी साहब के उपन्यासों में जो लचक, छिपा व्यंग्य है वह लाजवाब है। उनका साहित्य उनके व्यक्तित्व की भांति साफ,स्पष्ट और बेलौस है।

वरिष्ठ कवि और लेखक भगवान स्वरुप कटियार ने बताया कि डॉ काजी अब्दुल सत्तार साहब को डाक्टर राही मासूम रजा साहित्य सम्मान अलंकृत किया गया था। लखनऊ विश्वविद्यालय के राजनीति शास्त्र विभाग के पूर्व अध्यक्ष डॉ रमेश दीक्षित ने कहा कि अवध के सामंती जीवन को समझना है तो डॉक्टर काजी अब्दुल सत्तार साहब के साहित्य को गंभीरता से पढना होगा।

डॉ शबनम रिजवी ने डॉ काजी अब्दुल सत्तार साहब के व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डाला। वरिष्ठ सोशल एक्टिविस्ट के के शुक्ला, ओ पी सिन्हा, डॉ सतीश श्रीवास्तव, वीरेन्द्र त्रिपाठी, एडवोकेट सहित अन्य लोगों ने डॉ काजी अब्दुल सत्तार साहब को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।



Browse By Tags



Other News