अकबरपुर नपा क्षेत्र के सदरपुर, अहरिया व अमरौला के लोगों को जल्द मिलेगा शुद्ध पेयजल: सुरेश कुमार मौर्य
| Rainbow News - Nov 23 2018 2:11PM

सुरेश कुमार मौर्य, अधिशाषी अधिकारी, नपाप अकबरपुर

जल ही जीवन है...........तात्पर्य यह कि जीवन के लिए जल नितान्त आवश्यक है। शरीर के लिए हवा, भोजन और जल तीनों महत्वपूर्ण होते हैं, परन्तु इन तीनों में हवा और जल सबसे अहम। ग्राम्यांचल हो या फिर नगर क्षेत्र सभी जगह आबाद जीवन के लिए हवा, भोजन और जल तीनों घटक जरूरी हैं। हवा और जल के उपरान्त ही भोजना की आवश्यकता पड़ती है इनमें सन्तुलन बनाए रखना भी आवश्यक है। स्वस्थ जीवन के लिए हर प्राणी को शुद्ध जल की आवश्यकता होती है। बढ़ती आबादी और विकराल रूप लेता प्रदूषण...........ऐसी स्थिति में शुद्ध आबो-हवा मिल पाना कठिन हो गया है। गाँव-देहात से लेकर शहरी क्षेत्रों में लगभग सरकारी, गैरसरकारी संगठनों द्वारा इस बात पर काफी जोर दिया जा रहा है कि लोगों को शुद्ध पर्यावरण में शुद्ध जल मिल सके और सरकार ने भी ऐसी योजना संचालित कर रखा है जिसमें मानव व हर प्राणी को पर्याप्त शुद्ध जल प्रचुरता में मिल सके। इस योजना का नाम सरकार ने अमृत योजना रखा है। इस योजना का उद्देश्य नगर पालिका/नगर पंचायत क्षेत्रों में आबाद लोगों को शुद्ध जल मुहैय्या कराना है। 

रेनबोन्यूज ने बीते दिनों उत्तर प्रदेश के अम्बेडकरनगर जनपद मुख्यालय के शहर अकबरपुर जो नगर पालिका परिषद द्वारा संचालित होती है की सीमा अन्तर्गत आने वाले हालिया समाहित वार्डों में पेयजल उपलब्धता के बारे में अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य से बातचीत किया। उन्होंने कहा कि जल्द ही नगर पालिका सीमा में आने वाले ऐसे कई क्षेत्रों के लोगों को शुद्ध जल मिलने लगेगा जिसमें अभी तक नगरीय सुविधा के तहत ऐसी कोई व्यवस्था नहीं थी। अब इन इलाकों में अमृत योजना के तहत प्रचुर मात्रा में शुद्ध जल की उपलब्धता रहेगी। उनसे की गई वार्ता के दौरान जो जानकारी मिली उसका हम यहाँ प्रकाशन कर रहे हैं-

नगर पालिका परिषद अकबरपुर सीमा में हालिया प्रवेश पाये वार्ड सदरपुर, अमरौला व अहरिया के लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए अमृत योजना के तहत पाइपलाइन बिछाने का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। इसके अलावा सदरपुर में ट्यूबवेल की स्थापना के साथ ही इन इलाकों की लगभग 12 हजार की आबादी को शुद्ध पेयजल मिलने लगेगा। 

अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद अकबरपुर सुरेश कुमार मौर्य से मिली जानकारी के अनुसार गर्मी के दिनों में जलस्तर नीचे चले जाने पर इन क्षेत्रों में लगे ज्यादातर हैण्डपम्पों ने काम करना बन्द कर दिया था ऐसे में पेयजल संकट से लोगों को उबारने के लिए नगर पालिका द्वारा जगह-जगह सबमर्सिबल स्थापित करवाया गया था। साथ ही अहिराना, गौहन्ना व लोरपुर में ट्यूबवेल की भी स्थापना कराई गई थी। इससे लोगों को पेयजल संकट से काफी राहत मिली थी। पेयजल की किल्लत से जूझ रहे लोगों को इस समस्या से स्थाई छुटकारा दिलाने के लिए नगर पालिका ने योजना बनाकर उस पर कार्य करना भी प्रारम्भ कर दिया है।   

अकबरपुर नगर पालिका में हालिया समाहित वार्ड सदरपुर, अहरिया व अमरौला के लोगों को अमृत योजना के तहत 39 कि.मी. की लम्बाई में बिछाई जाने वाली पाइपलाइन के माध्यम से सदरपुर में लगने वाले ट्यूबवेल के द्वारा शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए चलने वाला कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। यह कार्य उत्तर प्रदेश जल निगम द्वारा कराया जा रहा है, जो अपने अन्तिम दौर में है। शीघ्र ही लोग प्रचुर मात्रा में शुद्ध पेयजल पा सकेंगे। 

इसके लिए पालिका प्रशासन ने शासन को प्रस्ताव भेजा था। शासन द्वारा उक्त प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद 2 करोड़ 14 लाख रूपए की लागत से उक्त तीनों वार्डों में योजना के तहत कार्य प्रारम्भ कर दिया गया था। सदरपुर में ट्यूबवेल स्थापना व सदरपुर व अमरौला में पाइप लाइन बिछाये जाने का कार्य अब लगभग पूरा हो चुका है। अहरिया में पाइप लाइन बिछाये जाने का कार्य शुरू हो चुका है। जल्द ही सारे कार्य पूर्ण हो जाएँगे और तत्पश्चात् ट्यूबवेल से कनेक्शन कर सम्बन्धित वार्ड के लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना शुरू कर दिया जाएगा। इस तरह पेयजल की किल्लत से जूझ रहे नगर पालिका क्षेत्र के उक्त इलाकों में पानी की समस्या जल्द ही दूर हो जाएगी और लोगों शुद्ध पेयजल मिलने लगेगा। 

अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य ने अकबरपुर नगर पालिका क्षेत्र के नागरिकों से अपील किया है कि :-

नगर उनका है- इसे साफ-सुथरा रखें, कूड़ा-कचरा डस्टबिन में ही डालें,  नपाप द्वारा निर्मित मूत्रालयों का प्रयोग करें, जल ही जीवन है, इसके दृष्टिगत अनावश्यक खुली टोंटियों को बन्द रखें, पानी जाया न करें, समस्याओं से उन्हें ससमय अवगत कराएँ- यथा शीघ्र समाधान पाएँ, नगरजनों को नगरीय सुविधा देने के लिए नगर पालिका कटिबद्ध है।



Browse By Tags



Other News