मझुई नदी पर पुल बनकर तैयार, जल्द शुरू होगा आवागमन: एस.के. लाल
| Rainbow News - Dec 5 2018 4:40PM

इं0 शंकर्षण लाल, अधिशाषी अभियन्ता, पी.डब्ल्यू.डी. (प्रान्तीय खण्ड)

अम्बेडकरनगर जनपद के सुदूर पूर्व दक्षिणांचल क्षेत्र के दर्जनों गाँवों में निवास करने वाले लोगों को अब जल्द ही पश्चिम सुल्तानपुर और पूरब आजमगढ़ व जिले के पूर्वांचल स्थित अन्य क्षेत्रों में आवागमन में सहूलियत मिलेगी। वह इसलिए कि वर्ष 2017-18 में राज्य योजना के तहत अम्बेडकरनगर व सुल्तानपुर की सीमा पर बहने वाली नदी मझुई (मंजूषा) पर बनने वाला पुल अब अपनी पूर्णता की तरफ है। 4 करोड़ की लागत से बनने वाला 70 मीटर लम्बा पुल व ढाई कि.मी. लम्बे सम्पर्क (पहुँच) मार्ग का कार्य अन्तिम दौर में चल रहा है। 

उक्त जानकारी देते हुए पी.डब्ल्यू.डी. प्रान्तीय खण्ड के अधिशाषी अभियन्ता इं0 शंकर्षण लाल ने रेनबोन्यूज से कहा कि उक्त पुल का निर्माण उत्तर प्रदेश सेतु निगम के जिम्मे है जबकि पुल के सम्पर्क मार्ग का निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा कराया जा रहा है। निर्माण कार्य निर्बाध रूप से हो इसके दृष्टिगत उत्तर प्रदेश शासन ने दोनों कार्यदायी संस्थाओं को धनराशि उपलब्ध करा दिया है। 

यहाँ बता दिया जाए कि नरायनपुर-खुलासपुर की सीमा पर इस पुल के बन जाने से अम्बेडकरनगर जनपद के दक्षिणांचल स्थित गाँव खुलासपुर, कुढ़ा मोहम्मदगढ़, कामतागंज, पहाड़पुर, बस्तीपुर, भितरीडीह, उदयपुर, जगदीशपुर, मक्खापुर, अहलादे, कुटियवा आदि दर्जनों गाँवों के हजारों लोगों को आवागमन में सहूलियत मिलेगी। यह पुल एक प्रकार से उनके लिए नव वर्ष 2019 में एक तोहफा साबित होगा। 

इस पुल के निर्माण से लोगों को सुल्तानपुर जाने के लिए मीलों की लम्बी व घुमावदार दूरी नहीं तय करनी पड़ेगी। अब इन गाँवों के लोगों को सुल्तानपुर जाने के लिए बेवाना और फिर दोस्तपुर जाने की जहमत भी नहीं उठानी पड़ेगी। यात्रा करने वाले लोग नरायनपुर व खुलासपुर, बस्तीपुर आदि स्थानों पर जाकर सवारी वाहन पकड़ कर अपने गन्तव्य तक जा सकेंगे। इन स्थानों से पश्चिम सुल्तानपुर जनपद मुख्यालय जाने वाले लोग मोतिगरपुर, जयसिंहपुर होकर सड़क मार्ग से अपनी यात्रा कर सकेंगे।



Browse By Tags



Other News