नवरात्रि के प्रथम दिन चौकियां व मैहर धाम में लाखों भक्तों ने टेका मत्था
| -Ramjee Jaiswal - Apr 6 2019 5:00PM

जौनपुर। चैत्र नवरात्रि का शुभारम्भ शनिवार को हो गया जिसके बाबत जहां पूर्वांचल की शक्तिपीठ मां शीतला चौकियां धाम व मैहर माता मन्दिर परमानतपुर में हजारों भक्तों ने मत्था टेका, वहीं जिला मुख्यालय से लेकर ग्रामीणांचलों तक की सभी देवी मन्दिरों पर दर्शन-पूजन हुआ। इस दौरान घण्टे-घड़ियालों की गूंज से वातावरण गूंज उठा जहां माता रानी की जयघोष से पूरा माहौल ही भक्तिमय हो गया।

इसके पहले तड़के चौकियां व मैहर धाम में भक्तों की कतार लग गयी जहां माता रानी के श्रृंगार के बाद भक्तों के दर्शन के लिये पट्ट खुल गये। इसके बाद भक्तों ने जयकारा लगाते हुये दर्शन-पूजन किया और सुख-समृद्धि के लिये माता रानी से मंगलकामना किया। देखा गया कि भक्तों ने नारियल, चुनरी, रोरी, रक्षा, कपूर, अगरबत्ती, धूपबत्ती आदि से विधि-विधा से पूजा किया। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल तैनात रहा तो भक्तों की सेवा के लिये स्काउट गाइड के बच्चे भी मुश्तैदी से डटे रहे।

चौकियां व मैहर धाम में सुबह से शुरू दर्शन-पूजन का सिलसिला देर रात तक चलता रहा जहां केवल भक्तिमय गीत, पचरा, जयकारे सुनायी दे रहे थे। नवरात्रि के प्रथम दिन चौकियां, मैहर धाम के अलावा विंध्यवासिनी मन्दिर ताड़तला, नवदुर्गा शिव मन्दिर नखास, केवला माता मन्दिर जीजीआईसी सहित समस्त देवी मन्दिरों पर भक्तों का तांता लगा रहा। चौकियां संवाददाता के अनुसार पूर्वांचल की आस्था का केन्द्र शीतला चौकियां धाम में नवरात्रि के प्रथम दिन मन्दिर के कपाट सुबह 4 बजे खुले जिसके बाद दर्शन-पूजन शुरू हो गये।

हवन, पूजन, आरती होने के बाद माता जी के जयकारों से वातावरण भक्तिमय हो गया। सुरक्षा की दृष्टि से मन्दिर परिसर सहित अगल-बगल तक जवानों की समुचित व्यवस्था रही। वहीं घर आदि में कलश रखकर पूरे नवरात्रि भर पूजन-अर्चन का अनुष्ठान भी शुरू हो गया। इतना ही नहीं, अधिकाश लोगों ने प्रथम दिन व्रत रखा जबकि तमाम लोग पूरे नवरात्रि भर व्रत रहते हैं। इसके अलावा काफी लोगों द्वारा शुभ कार्य का शुभारम्भ भी किया गया।



Browse By Tags



Other News