इस तरह की महिलाएं पीरियड्स में भी हो जाती है प्रेगनेंट
| Rainbow News - Apr 7 2019 4:18PM

इस दुनिया में बहुत से लोगों को ऐसा लगता हैं की महिलाएं पीरियड्स के समय प्रेगनेंट नहीं होती हैं। लेकिन ये बात बिल्कुल भी गलत हैं। इस दुनिया में कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जो किसी भी समय प्रेगनेंट हो सकती हैं। आज जानने की कोशिश करेंगे कुछ ऐसी महिलाओं के बारे में जो महिलाएं पीरियड्स के समय भी प्रेगनेंट हो जाती हैं और इन्हे गर्भाधान करने में कोई परेशानी नहीं होती हैं और इनके गर्भ में एक स्वस्थ भूर्ण का निर्माण होता हैं। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से की इन 5 तरह की महिलाएं पीरियड्स में भी हो जाती है प्रेगनेंट।

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन मजबूत , यदि किसी महिला के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन मजबूत होता हैं तो वो महिला पीरियड्स के समय भी प्रेगनेंट हो जाती हैं। क्यों की प्रोजेस्टेरोन हार्मोन मजबूत होने के कारण महिलाओं के गर्भाशय में पीरियड्स के दौरान भी कुछ अंडे जीवित होते हैं जो पुरुषों के शुक्राणु के साथ मिलकर भूर्ण का निर्माण कर लेते हैं और वो महिला प्रेगनेंट हो जाती हैं। इतना हीं नहीं इस तरह की महिलाओं को गर्भाधान करने में कोई भी परेशानी नहीं होती हैं। महिलाएं हार्मोनिक जांच के द्वारा अपने शरीर के प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के बारे में पता लगा सकती हैं।

ब्लड सर्कुलेशन सामान्य, पीरियड्स के समय ज्यादा तर महिलाओं का ब्लड सर्कुलेशन अनियंत्रित हो जाता हैं और महिलाओं के शरीर का तापमान भी घटता बढ़ता रहता हैं। जिससे कारण पीरियड्स के समय महिलाओं को प्रेगनेंट होने के चांस कम होते हैं। लेकिन वैसी महिलाएं जिनका पीरियड्स के समय भी ब्लड सर्कुलेशन सामान्य होता हैं वो महिलाएं इस दौरान भी प्रेगनेंट हो जाती हैं और इन्हे प्रेगनेंट होने में कोई समस्या नहीं होती हैं। साथ हीं साथ इनके गर्भाशय में एक स्वस्थ भूर्ण का निर्माण होता हैं।

एस्ट्रोजन की संख्या अधिक, वैसी महिलाएं जिनके शरीर में एस्ट्रोजन की संख्या अधिक होती हैं। उन महिलाओं के गर्भाशय में पीरियड्स के समय भी कुछ जीवित अंडे मौजूद होते हैं जो पुरुषों के शक्राणु से फर्टलाइज़ हो जाते हैं और ये महिला प्रेगनेंट हो जाती हैं। इसलिए पीरियड्स के समय कोई भी महिला ये समझने की भूल बिल्कुल भी ना करें की वो इस समय प्रेगनेंट नहीं हो सकती हैं। महिलाएं किसी भी समय प्रेगनेंट हो सकती हैं।

तनाव मुक्त, यदि कोई महिला तनाव मुक्त रहती हैं तो इससे पीरियड्स के दौरान महिलाओं के शरीर में कोई ज्यादा बदलाव नहीं होता हैं और महिलाओं के शरीर में पाए जाने वाले हार्मोन्स भी संतुलित रहते हैं। साथ हीं साथ महिलाओं को पीरियड्स के समय परेशानी नहीं होती हैं। इन महिलाओं के गर्भाशय में बहुत से अंडे ऐसे होते हैं जो फर्टलाइज़ के तैयार होते हैं और ये महिलाएं प्रेगनेंट हो जाती हैं।

शरीर सेहतमंद, वैसी महिलाएं जिनका शरीर सेहतमंद रहता हैं तथा शरीर में आयरन, कैल्शियम, हिमोग्लोबिन की कोई कमी नहीं होती हैं। साथ हीं साथ शरीर में थायराइड की समस्या भी नहीं होती हैं। उन महिलाओं को पीरियड्स के समय भी गर्भवती होने के चांस होते हैं। क्यों की इनके शरीर में बनने वाले अंडे उच्च किस्म के होते हैं और पीरियड्स के समय भी कुछ अंडे जीवित रहते हैं जो पुरुषों के शुक्राणु से मिलकर फर्टिलाइज़ हो जाते हैं।



Browse By Tags



Other News