मतदान जरूर करें.....
| - Om Prakash Uniyal - Apr 10 2019 12:36PM

लोकतंत्र के महापर्व के पहले चरण का शुभारंभ कल होने जा रहा है। देश के विभिन्न हिस्सों में सात चरणों में अलग-अलग तिथियों में मतदान होना है। लोकतांत्रिक देशों में जनता द्वारा जन-प्रतिनिधि चुना जाता है, चुनावी प्रक्रिया के माध्यम से। ताकि चुना हुआ जन-प्रतिनिधि देश के विकास में अपनी अहम भूमिका निभा सके और जनता की आवाज को सरकार तक पहुंचा सके। मतदान का अधिकार भारत के उन समस्त नागरिकों को है जो अट्ठारह साल से ऊपर की आयु के हों।

मतदाता किसी भी दल के प्रत्याशी पर अपनी मोहर लगा सकता है। उस पर किसी भी दल का दबाव नहीं होता। चुनाव आयोग की हर दल पर कड़ी नजर तो रहती ही है इस संबंध में पहले से ही निर्देशित भी कर दिया जाता है। चुनाव प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो इसके लिए आयोग पूरी एतिहात बरतता है। चुनाव की घोषणा होने से और परिणाम घोषित होने तक चुनाव आयोग हर दृष्टिकोण से निगरानी बनाए रखता है और सचेत रहता है।

चुनाव के दौरान सुरक्षा का भी पुख्ता इंतजाम होता है जिससे कहीं बूथ कैप्चरिंग व अन्य प्रकार की कोई अप्रिय घटना न घट सके। शांति का माहौल बना रहे। मतदाता शांति से मतदान कर सकें। आयोग को मतदाताओं को भी जागरूक करना होता है। जिससे कोई भी मतदाता अपने इस अधिकार से वंचित न रहे। इसके लिए पहले से ही मतदाता जागरूकता अभियानों पर बल देना पड़ता है। मतदाताओं को भी चाहिए कि अपने मताधिकार का उपयोग अवश्य करें।

यदि किसी भी दल के प्रत्याशी को नहीं चुनना चाहते तो ' नोटा' का भी विकल्प है। आपका मत छूटे न यह ध्यान रखें। एक-एक मत बहुत ही महत्व रखता है। युवा वर्ग तो विशेष उत्साह के साथ अपना फर्ज निभाएं। देश को यदि अच्छे जन-प्रतिनिधि सौंपे जाएंगे तो निश्चित ही देश का चहुंमुखी विकास होगा।

-ओम प्रकाश उनियाल



Browse By Tags



Other News