राष्ट्र निर्माण में हिन्दी पत्रकारिता की अहम भूमिकाः प्रो. सुन्दर लाल 
| Rainbow News Network - May 31 2019 2:42PM

पत्रकारिता में महर्षि नारद का आदर्श जरूरीः प्रो. राजाराम यादव

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में गुरुवार को हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर राष्ट्र निर्माण में हिन्दी पत्रकारिता का योगदान विषयक संगोष्ठी का आयोजन हुआ। इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि पूविवि के पूर्व कुलपति प्रो. सुन्दर लाल ने कहा कि हिन्दी पत्रकारिता ने राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। 30 मई 1826 में उदंत मार्तन्ड ने हिन्दी पत्रकारिता की ऐसी ज्योति जलायी जो स्वतंत्रता आंदोलन के अंतिम चरण में ज्वाला बनकर फूटी। उन्होंने कहा कि हमने स्वयं अपने दौर में दिनमान, धर्मयुग, साप्ताहिक, हिन्दुस्तान जैसी पत्र-पत्रिकाओं से ज्ञान अर्जित किया है।

अध्यक्षता करते हुये पूविवि के कुलपति प्रो. राजाराम यादव ने कहा कि सृष्टि के प्रथम पत्रकार महर्षि नारद के आदर्शों पर चलकर ही हम पत्रकारिता की खामियों को दूर कर सकते हैं। उन्होंने महर्षि नारद के उद्बोधन नारायण-नारायण के शाब्दिक और पत्रकारिता के दृष्टिकोण से व्याख्या करते हुये शब्द संचार के अर्थ को बताया। इस दौरान विभागाध्यक्ष डा. मनोज मिश्र ने अतिथियों का स्वागत करते हुश्े हिन्दी पत्रकारिता के विकास यात्रा का संक्षिप्त परिचय कराया। साथ ही हिन्दी साहित्य के कवियों की लेखनी को संदर्भित करते हुये हिन्दी पत्रकारिता के इतिहास को रेखांकित किया। व

हीं विषय प्रवर्तन करते हुये विशेष कार्याधिकारी डा. केएस तोमर ने कहा कि सच्ची और उपयोगी खबरें जनता तक पहुंचना ही पत्रकारिता का उद्देश्य है। इसके पहले विभागाध्यक्ष डा. मनोज मिश्र व डा. दिग्विजय सिंह राठौर ने मुख्य अतिथि प्रो. सुन्दन लाल व पूविवि के कुलपति प्रो. यादव को अंगवस्त्रम एवं स्मृति चिन्ह भेंट करके सम्मानित किया। संगोष्ठी का संचालन डा. अवध बिहारी सिंह ने किया। अन्त में धन्यवाद ज्ञापन डा. सुनील कुमार ने किया।

इस अवसर पर प्रो. बीबी तिवारी, वित्त अधिकारी एमके सिंह, परीक्षा नियंत्रक डा. राजीव कुमार, प्रो. अजय द्विवेदी, प्रो. बीडी शर्मा, प्रो. अशोक श्रीवास्तव, प्रो. वंदना राय, प्रो. अजय प्रताप सिंह, प्रो. राम नारायण, डा. प्रमोद यादव, एनएसएस के समन्वयक राकेश यादव, डा. प्रदीप कुमार, डा. राजकुमार, डा. मनीष गुप्ता, डा.आशुतोष सिंह, डा. मुराद अली, डा. नूपुर तिवारी, डा. जान्हवी श्रीवास्तव, डा. नृपेन्द्र सिंह, डा. सुधीर उपाध्याय, डा. परमेन्द्र विक्रम सिंह, लक्ष्मी प्रसाद मौर्य सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।



Browse By Tags



Other News