105 वर्षीया राम सुभागी देवी का त्रयोदशा सम्पन्न
| Rainbow News - Jun 19 2019 5:40PM

अम्बेडकरनगर। (रेनबोन्यूज नेटवर्क)। जिले की तहसील टाण्डा एवं थाना इब्राहिमपुर अन्तर्गत ग्राम अमेदा-सरैया निवासिनी श्रीमती राम सुभागी देवी का त्रयोदशा संस्कार 18 जून 2019 को सम्पन्न हुआ। यहाँ बता दें कि स्वर्गीया सुभागी देवी पत्नी स्व. बुधिराम विश्वकर्मा जिले की सबसे उम्र दराज महिला थीं। उनका 105 वर्ष की उम्र में 5/6 जून 2019 की अर्धरात्रि को निधन हो गया था।

उनकी अन्त्येष्टि टाण्डा स्थित घाघरा नदी के किनारे महादेवा घाट पर हुई थी। मुखाग्नि उनके बड़े पुत्र रामनाथ विश्वकर्मा ने दिया। श्रीमती सुभागी देवी अपने पीछे दो पुत्र, तीन पुत्रियाँ (सभीं विवाहिता), पुत्रवधू, पौत्र एवं पौत्रवधू समेत भरा पूरा परिवार छोड़ गईं हैं। स्व. सुभागी देवी के पति स्व. बुधिराम विश्वकर्मा का देहान्त लगभग 20 वर्ष पहले हो गया था। वह अपने पुत्रों रामनाथ एवं उमानाथ के साथ रह रही थीं।

अन्तिम सांस तक श्रीमती सुभागी देवी सक्रिय रूप से घरेलू काम-काज करती रहीं। अल्पकालिक अस्वस्थता के फलस्वरूप उनका निधन 5/6 जून 2019 की अर्धरात्रि को हो गया। त्रयोदशा पर आयोजित ब्रम्हभोज में हित-मित्र, रिश्तेदार एवं क्षेत्र के सैकड़ों लोग सम्मिलित हुए। दिवंगता जनपद की महिला पत्रकार रीता विश्वकर्मा नानी थी। रेनबोन्यूज परिवार ने उनकी आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित किया। 



Browse By Tags



Other News