कृषि विविधीकरण अपनाकर लाभ कमाए किसान
| Rainbow News - Jun 20 2019 3:06PM

कृषि विभाग द्वारा आयोजित किसान पाठशाला के दूसरा दिन विकास खण्ड कुड़वार के न्याय पंचायत अगई के ग्राम  माधोपुर आचार्य मे नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौधोगिक विश्व विधालय कुमारगंज अयोध्या द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केन्द्र बरासिन सुलतानपुर के अध्यक्ष प्रो.रवि प्रकाश मौर्य ने कृषि विविधीकरण पर जानकारी दी। उन्होने बताया कि कृषक भूमि का आकार कम होने से कृषको की आय तथा उ़नकी जीवन शैली पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है।

इस परिस्थिति मे कृषको द्वारा कृषि विविधीकरण एवं कृषि की आधुनिक पध्दति को अपनाने की आवश्यकता है। जैविक खेती पर बल देते हुए बताया कि खेतीे के साथ-साथ पशुपालन, मच्छली पालन बकरीपालन, मुर्गीपालन, बतक पालन, भी करे किसान। फसल अवशेष पुवाल व भूसा  का उपयोग कर मशरुम उत्पादन हेतु करे। मधु मक्खी पालन कर आय दुगोनी की जा सकती है इसे मधु के साथ-साथ मोम,मौनी बिष, रायल जैली मिलता है तथा फसलो की पैदावार बढाने मे मधु मक्खियाँ सहायक होती है।

फलो, सब्जियो, फूलो की खेती भी अपनाए, ताकि अधिक से अधिक उत्पादन एवं आय प्राप्त कर सके। कृषि विभाग के प्राविधिक सहायक श्री के.बी. यादव ने कृषि विभाग की योजनाओ एवं देय सुविधाओ की जानकारी के साथ साथ असली एवं नकली/मिलावटी उर्वरको की पहचान करने की विधि भी बताई। प्रगतिशील कृषक राधेश्याम पाण्डेय, सत्य देव मिश्रा, राजेश एवं श्रीमती राज कुमारी आदि सहित  60 स़ेअधिक कृषक, कृषक महिलाओ ने भाग लिया।



Browse By Tags



Other News