फिर डूबी उसरहवा कॉलोनी, अधिकारी इसकी जलसमाधि देखने को आतुर
| Rainbow News Network - Jun 24 2019 4:30PM

अम्बेडकरनगर जिले की मुख्यालयी नगर पालिका अकबरपुर जिसको क्लीन सिटी बनाये जाने की चर्चा जोरों पर थी। यह कब मूर्त रूप लेेेगी इसे तो नहीं कहा जा सकता परन्तु यत्र-तत्र-सर्वत्र व्याप्त गन्दगी का अम्बार और नगर के सभी 25 वार्डों में पानी के निकास की समुचित व्यवस्था न होने से घरों से निकलने वाले गन्दे पानी के ठहराव से उत्पन्न सड़ान्ध की स्थिति से जनमानस नित्य दो चार हो रहा है। 

उदाहरण के तौर पर अकबरपुर नगर पालिका क्षेत्र की सीमा में आने वाले वार्ड नम्बर 11 जिसे मलिन बस्ती नम्बर- 1 का दर्जा प्राप्त है के बारे में चर्चा की जाएगी। यह वार्ड अकबरपुर बस स्टेशन के पश्चिमी तरफ स्थित है। इसकी खासियत यह है कि वरूण देव की थोड़ी सी भी कृपा से यदि बारिश हो गई तो सम्पूर्ण क्षेत्र जलमग्न हो जाता है।

इस समय जबकि मानसून का आगमन आसन्न है और दो-एक बार मूसलाधार बारिश भी हो चुकी है तब ऐसे में उसरहवा कॉलोनी मुख्यतः अमृत भोग स्वीट्स से प्रवीण बाल शिक्षा निकेतन तक जाने वाली गली के उत्तर तरफ स्थित रिहायशी कॉलोनी में जलप्लावन की स्थिति ने लोगों को उनके घरों में कैद करके रख दिया। 

बारिश बन्द होने के कई घण्टों बाद लोग घरों से बाहर निकलकर गन्तब्य को जा सके। मजे की बात तो यह रही कि युवा जनों एवं बच्चों द्वारा गर्मी से राहत मिलने पर होेने वाली झमाझम और गलियों में भरा कमर तक पानी में जलक्रीड़ा की गई। युवा बाइकर्स ने जल पर्यटन जमकर किया। इसको वार्ड नम्बर 11 की साफ-सफाई के लिए नियुक्त सफाई कर्मियों के दल ने देखा और उन्होंने भी जल पर्यटकों व जल क्रीड़ा में लिप्त बच्चों भरपूर साथ दिया। उनसे जब यह कहा गया कि इतना पानी भरा है कुछ करो तो यह बात अनसुनी कर दी गई। 

रेनबोन्यूज ने 2017 जब अकबरपुर की ई.ओ. संगीता कुमारी थी तब और उनके स्थानान्तरण उपरान्त अगस्त 2017 से ई.ओ. सुरेश कुमार मौर्या को वार्ड नम्बर 11 में उत्पन्न होने वाली जलप्लावन की समस्या का विस्तृत प्रकाशन कर ध्यान दिलाया। इसके साथ ही नगर पालिका अकबरपुर के इन दोनों अधिकारियों से अनेकों बार मौखिक रूप से भी बात करके समस्या समाधान हेतु कहा गया परन्तु इन दोनों की टरकाऊ नीति के चलते समस्या जस की तस बनी हुई है। अब तो हल्की सी भी बारिश में इस इलाके की स्थित ऐसी हो जाती है जैसे महा प्रलय उपरान्त जल ही जल जैसा नजारा दिखाई पड़ने लगता है।

अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य और अवर अभियन्ता घनश्याम मौर्य इस समय प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान में व्यस्त होने की वजह से अपने कार्यालय में कम ही मिलते हैं। फोन तो कभी उठता ही नहीं। चाहे उसरहवा कॉलोनी डूबे या फिर 25 वार्डों और लाखों की आबादी वाला पूरा अकबरपुर नगर पालिका क्षेत्र जलसमाधि ले ले इन जिम्मेदार अधिकारियों की सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ता। 

रेनबोन्यूज ने 8 जून 2017 और 22 मई 2018 को वार्ड नम्बर 11 उसरहवा कॉलोनी की समस्या जिसका प्रकाशन किया था उसका लिंक नीचे दिया जा रहा है, जिसे क्लिक कर पढ़ा जा सकता है।  

मानसूनी बरसात में डूब जाएगी अकबरपुर नपा क्षेत्र के वार्ड नम्बर 11 की उसरहवा कॉलोनी

http://www.rainbownews.in/News-Detail.aspx?Article=552

क्या इस बार भी बरसात में डूबेगी उसरहवा कॉलोनी...?

http://www.rainbownews.in/News-Detail.aspx?Article=2633



Browse By Tags



Other News