अकबरपुर के उसरहवा वासियों को अब तक नहीं मिली जल-भराव की समस्या से निजात
| Rainbow News - Jul 12 2019 3:51PM

अम्बेडकरनगर के जिला मुख्यालयी शहर अकबरपुर के वार्ड नम्बर 11 उसरहवा कॉलोनी में जलप्लावन की समस्या रेनबोन्यूज के 8 जून 2017 और 22 मई 2018 के अंक में क्रमश: पहले भी प्रकाशित की जा चुकी है...परन्तु नगर पालिका परिषद के अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्या ने न तो खुद वहां जाकर इस समस्या को देखना मुनासिब समझा और ना ही किसी अन्य जिम्मेदार को भेजा....इसे नपाप के जिम्मेदार ओहदेदारों की अनदेखी कहें या गैरजिम्मेदाराना रवैया...जो भी हो उसरहवा की यह समस्या अभी भी जस की तस बनी हुयी है..जिससे इस मोहल्ले में रहने वालों का जीवन नारकीय बन कर रह गया है...

पिछले दो वर्षो से मौखिक वार्ता और मीडिया में खबर प्रकाशित करके अकबरपुर नपाप के वार्ड नम्बर-11, उसरहवा की समस्या से ई.ओ. को अवगत कराया जा रहा है, जो अब भी निरन्तर जारी है...........फिर भी सुरेश कुमार मौर्य, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका अकबरपुर ने इस गम्भीर समस्या पर ध्यान देना गंवारा नहीं समझा, यही नहीं जब भी उन्हें जल-जमाव, चोक नालियों, वार्ड में व्याप्त गन्दगी और स्वच्छता के बारे में बताया जाता तो वे यही कहते कि अभी तत्काल किसी को भेजकर समस्या दिखवाता हूँ। इस तरह की बात कहकर ई.ओ. आज तक टरकाते आ रहे हैं और समस्या दूर करने की कौन कहे कोई जिम्मेदार ओहदेदार देखने तक नहीं आया। 

बीते दिवस बारिश की वजह से उसरहवा वार्ड नम्बर 11 दलित बस्ती के आधा डूब जाने की बावत खबर का प्रकाशन कर उनसे मौखिक वार्ता की गई तो उन्होंने एक अन्य वार्ड के सफाई कर्मचारी जिसने अपना नाम सुरेश कुमार बताया को भेजकर मौका-मुआयना कराया। सुरेश कुमार ने वार्ड नम्बर 11, उसरहवा कॉलोनी निवासी वरिष्ठ पत्रकार भूपेन्द्र सिंह गर्गवंशी से ही पूंछा कि क्या समस्या है..........? इस पर पत्रकार ने कहा कि देख नहीं रहे हो पूरी गली डूबी हुई है, गन्दगी, मल-मूत्र यत्र-तत्र-सर्वत्र फैला हुआ है, इसके बावजूद भी पूंछ रहे हो कि आपकी क्या समस्या है........। सफाई कर्मी सुरेश कुमार ने स्पष्ट कहा कि वह सफाई नायक है उसके जिम्मे उसरहवा, महानगर और शास्त्रीनगर तथा पटेलनगर मोहल्ले हैं। डूबी कॉलोनी के बावत उसने कहा कि यह निर्माण का मामला है, इसमें हम कुछ नहीं कर सकते। हमारी टीम तो बस साफ-सफाई ही कर सकती है, निर्माण के लिए अभियन्ता, ई.ओ., सभासद और अध्यक्ष जिम्मेदार हैं। 

नगर पालिका अकबरपुर के अवर अभियन्ता घनश्याम मौर्या से काफी प्रयास के बाद दूरभाषीय सम्पर्क सम्भव हो पाया तो उसरहवा की जलप्लावन समस्या के बावत वे क्या कर रहे हैं पूंछा गया, जिस पर उन्होंने कहा कि जब पालिका बोर्ड की बैठक होगी तब प्रस्ताव रखा जाएगा। प्रस्ताव को यदि मंजूरी मिल गई तो उक्त सड़क को इण्टरलॉकिंग कराकर ऊँचा करवा दिया जाएगा। ऐसा वे पिछले 2 सालों से कहते आ रहे हैं। अब पालिका बोर्ड की बैठक कब होगी, बोर्ड बैठक में उसरहवा की समस्या और उसके निराकरण के लिए कोई प्रस्ताव रखा भी जाएगा या नहीं और उस प्रस्ताव को मंजूरी मिलेगी ही.......कौन जानता है? किन्तु इसके पहले ही भारी बरसात से हो रहे जलभराव की चपेट में आकर कई रिहायशी मकान धराशाई हो जाएँगे, और ऐसे में जान-माल का कितना नुकसान होगा.......इससे अकबरपुर नगर पालिका के जिम्मेदारों को क्या मतलब.......?

नगर पालिका परिषद के चेयरमैन सरिता गुप्ता से दूरभाषीय सम्पर्क करने का प्रयास किया गया तो बात सम्भव नहीं हो सकी। जबकि उनके प्रतिनिधि मनोज गुप्ता से जब उसरहवा की जल-भराव समस्या के बावत कहा गया तो उनका कहना था कि कहाँ जलभराव की समस्या है। जल निकासी के लिए नालियाँ तो बनी हुईं हैं। इतना कहकर फोन काट दिया। नगर में गन्दगी व्याप्त हो, नालियाँ चोक हो या फिर लोग जलभराव की समस्या झेलें उनकी बला से। नगरजनों की समस्याओं से उन्हें कोई सरोकार नही है। 

वार्ड नम्बर 11 उसरहवा में निवास करने वाले लोगों की हालत इस समय यह हो गई है कि बादल देखने मात्र से सबको भय सताने लगता है कि कहीं ये बादल मेहरबान होकर घनघोर बारिश न कर दें, क्योंकि यदि ऐसा हुआ तो उनके रिहायशी मकान तालाब के रूप में तब्दील हो जाएँगे, और तालाब में सिर्फ जलीय जीव-जन्तु ही रह सकता है, कोई इन्सान नहीं।

आश्चर्य करने वाली बात तो यह है कि रेनबोन्यूज पिछले कई वर्षों से उसरहवा कॉलोनी में जल-जमाव की समस्या को प्रमुखता से प्रकाशित करता और जिम्मेदारों से इस बावत मौखिक वार्ता करता चला आ रहा है परन्तु इस समस्या के प्रति आज तक किसी भी जिम्मेदार ने गम्भीर होना तो दूर की बात इस पर सोचना भी जरूरी नहीं समझा। ऐसे में इस मोहल्ले को लोग अब यही सोच रहे है कि उन्हें जलजमाव की इस समस्या से अब शायद निजात नहीं मिल पाएगी।  

उसरहवा जलभराव समस्या से सम्बन्धित खबरें पढ़ने के लिए नीचे दिया गया लिंक क्लिक करें। 

 

अकबरपुर नपाप ओहदेदारों की वजह से उसरहवा में बलबा/फौजदारी की स्थिति उत्पन्न

अकबरपुर: सफाई कर्मियों की लापरवाही से नरक बना उसरहवा

बजबजा रहा है अकबरपुर, जनजीवन संकट में

फिर डूबी उसरहवा कॉलोनी, अधिकारी इसकी जलसमाधि देखने को आतुर

मानसूनी बरसात में डूब जाएगी अकबरपुर नपा क्षेत्र के वार्ड नम्बर 10 की उसरहवा कॉलोनी

http://rainbownews.in/News-Detail.aspx?Article=552

क्या इस बार भी बरसात में डूबेगी उसरहवा कॉलोनी...?

http://www.rainbownews.in/News-Detail.aspx?Article=2633



Browse By Tags



Other News