3 महीने में घट गए 10 करोड़ डेबिट कार्डधारक
| Rainbow News - Jul 15 2019 12:34PM

नोटबंदी के बाद से ही केंद्र सरकार देश में कैशलेश सिस्टम को ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा देने में जुटी है। इसके लिए देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन को जोरशोर से बढ़ावा दिया जा रहा है। वहीं अब खबरें आ रही है कि मार्च में डेबिट कार्ड के इस्तेमाल में गिरावट दर्ज की गई है। एक आंकड़े के मुताबिक डेबिट कार्ड के इस्तेमाल में मार्च और मई के बीच की गिरावट देखने को मिली है। एक आंकड़े के मुताबिक इस अवधि में डेबिट कार्ड के इस्तेमाल में करीब 10 फीसदी यानी 10 करोड़ कार्ड का इस्तेमाल होना बंद हो गया है। अब डेबिट कार्ड की संख्या 92.4 करोड़ से घटकर 82.4 करोड़ हो गई है।

दरअसल बैंकों ने मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड की जगह चिप वाले कार्ड का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। आरबीआई की गाइडलाइंस के मुताबिक बैंकों ने 29 अप्रैल से पहले मैग्निट स्ट्रिप वाले डेबिट कार्ड को ईएमवी चिप वाले डेबिट कार्ड से बदल दिया है। वहीं कुछ बैंकों के विलय के बाद भी डेबिट कार्डधारकों की संख्या पर असर पड़ा है। हाल ही में बैंक ऑफ बड़ौदा में विजया और देना बैंक का विलय हुआ है। वहीं कुछ बैंकों के विलय के बाद भी डेबिट कार्डधारकों की संख्या पर असर पड़ा है।

हाल ही में बैंक ऑफ बड़ौदा में विजया और देना बैंक का विलय हुआ है।  वहीं पंजाब नेशनल बैंक के डेबिट कार्डधारक सबसे ज्यादा कम हुए हैं। पीएनबी के डेबिट कार्डधारक पांच करोड़ घट गए हैं। बैंक ऑफ इंडिया के 2.2 करोड़ और एसबीआई के 1.9 करोड़ कार्डधारक घटे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि आरबीआई ने सिर्फ सक्रिय कार्डों की संख्या ली है, ऐसे में कार्ड में बदलाव के बाद दोबारा यह तादाद बढ़ सकती है।

हालांकि इस दौरान डेबिट कार्ड से ठीक उलट, क्रेडिट कार्ड की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिली है। मार्च से मई के बीच में क्रेडिट कार्ड की संख्या 10 लाख से बढ़कर 5 करोड़ पर पहुंच गई। आरबीआई के एक आंकड़े के मुताबिक 1.26 करोड़ की संख्या के साथ सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले क्रेडिट कार्ड वाला बैंक एचडीएफसी बैंक है। इसके बाद 87 लाख क्रेडिट कार्ड के साथ एसबीआई और 62 लाख क्रेडिट कार्ड के साथ ऐक्सिस बैंक का नंबर आता है।



Browse By Tags



Other News