100 से ज्यादा एनकाउंटर कर चुके प्रदीप शर्मा ने खाकी छोड़ी
| Rainbow News - Jul 19 2019 1:22PM

शिवसेना के टिकट से लड़ सकते हैं चुनाव

ठाणे शहर में एंटी एक्सटॉर्शन सेल में सीनियर पीआई पद पर कार्यरत एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। प्रदीप शर्मा 2019 का महाराष्ट्र विधानसभा का चुनाव लड़ने का मन बना चुके हैं। ठाणे शहर में एन्टी एक्सटॉर्शन सेल में सीनियर पीआई पद पर कार्यरत रहते प्रदीप शर्मा ने फिरौती के मामले में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इक़बाल कासकर को उसके घर से गिरफ्तार किया था।

थाने पुलिस के एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने मुंबई में घुसकर यह कार्रवाई की थी जिस की कोई ख़बर मुंबई पुलिस को नहीं थी। प्रदीप शर्मा पिछले 5 साल से मुंबई की अंधेरी ईस्ट विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए तैयारी कर रहे थे। इस सीट पर शिवसेना का कब्जा था लिहाज़ा शर्मा भाजपा के टिकट पर यहाँ मैदान में उतरनेवाले थे। उन्हें लग रहा था शिवसेना और भाजपा अलग अलग चुनाव लड़ेंगे लेकिन लोकसभा चुनाव में दोनों पार्टियों के बीच सुलह हो गयी जिस से प्रदीप शर्मा की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

शर्मा ने थाने शहर में  शिवसेना के नेता और शिवसेना में पॉवरफुल बन चुके मंत्री एकनाथ शिंदे से नजदीकियां बढाई पिछले दिनों राजनीति में एंट्री को लेकर शिंदे और शर्मा में बातचीत भी हुई। प्रदीप शर्मा अब शिवसेना के टिकट पर मुंबई से सटे नालासोपारा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। पालघर जिले पर भाई ठाकुर और उनकी पार्टी बहुजन विकास आघाडी का वर्चस्व रहा है। मौजूदा समय मे नालासोपारा सीट बहुजन विकास आघाड़ी के पास है।

हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में पालघर लोकसभा सीट बिजेपी से शिवसेना ने छीन ली इतना ही नहीं भाजपा के मौजूदा सांसद को भी पार्टी अपनी पार्टी में लेकर चुनाव लड़वाया और जीत भी हासिल की तब नालासोपारा विधानसभा सीट से शिवसेना को 26 हज़ार वोटों की बढ़त मिली थी। इस विधानसभा सीट पर उत्तर भारतीय वोटर्स की संख्या सबसे ज़्यादा है लिहाजा इस सीट से शिवसेना प्रदीप शर्मा को मैदान में उतार सकती है।



Browse By Tags



Other News