बालिका सुरक्षा अभियान कार्यशाला में दिए जा रहे हैं महत्वपूर्ण टिप्स
| Rainbow News - Jul 19 2019 4:49PM

सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार प्रदेश की बालिकाओं की सुरक्षा को सुदृढ़ करने के लिए स्कूल/कॉलेजों में 1 जुलाई से 31 जुलाई तक बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। 

इसी क्रम में अम्बेडकरनगर पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र कुमार मिश्र के निर्देश और अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र के नेतृत्व में विभिन्न थानों पर गठित टीम द्वारा बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान की कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। 

जिले में गठित बालिका सुरक्षा जागरूकता टीम के सदस्य स्कूल/कॉलेजों में जा-जाकर छात्राओं को उनकी सुरक्षा के बावत महत्वपूर्ण जानकारी व टिप्स देते हुए जागरूक कर रहे हैं। बालिका सुरक्षा जागरूकता को लेकर पुलिस महकमे के मुखिया काफी सजग हैं। उनका प्रयास है कि इस अभियान व इसके उद्देश्य की जानकारी जन-जन को हो और बालिकाओं में स्वयं की सुरक्षा के लिए आत्मविश्वास पैदा हो। उक्त बातें जिले के पुलिस प्रमुख वीरेन्द्र कुमार मिश्र ने कहीं। मिश्र के अनुसार प्रदेश सरकार द्वारा दिये गये आदेश का अक्षरशः पालन किया जा रहा है।

विद्यालयी कार्यदिवस में आयोजित बालिका सुरक्षा अभियान कार्यशालाओं की निगरानी क्षेत्राधिकारी द्वारा की जाती है, जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक और वह स्वयं भी कार्यशाला स्थल पर पहुँचकर बालिकाओं को जागरूक करते हुए उनका उत्साहवर्धन करते हैं। इसी तरह की बातें अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने भी कहीं। ए.एस.पी. के अनुसार बालिकाओं के विरूद्ध होने वाले अपराध पर प्रभावी नियंत्रण व उनको जागरूक करने के आशय से यह अभियान चलाया जा रहा है। 

अधिकारीद्वय के अनुसार स्कूल/कॉलेजों में आयोजित कार्यशालाओं में प्रतिभाग करने वाली छात्राओं को बालिका सुरक्षा के सम्बन्ध में जो महत्वपूर्ण जानकारियाँ दी जा रही हैं वह कुछ इस प्रकार हैंः- 

● किसी भी व्यक्ति पर अंधा विश्वास ना करें, किसी भी व्यक्ति के द्वारा कहीं भी बुलाए जाने पर माता-पिता से बता कर ही वहां जाएं।

● आत्म सुरक्षा के लिए अपने स्कूल में एनसीसी/स्काउट गाइड का प्रशिक्षण जरूर लें इससे आपके अंदर आत्मविश्वास आएगा आप अपने आप को सुरक्षित महसूस करेंगी।

● इंटरनेट का इस्तेमाल करते समय अपनी पर्सनल जानकारी जैसे फोटो, घर की फोटो, मोबाइल नंबर, पासवर्ड आदि कदापि शेयर ना करें।
यूपी 100
● किसी भी घटना पर तुरंत सहायता के लिए अपने फोन से 100 नंबर डायल करके पुलिस को बुला सकते हैं यह सेवा सातों दिन 24 घंटे कार्य करता है। यूपी पुलिस की यह सेवा त्वरित कार्यवाही के लिए ही है।

एंटी रोमियो स्क्वाड

●  जनपद के सभी थानों पर एंटी रोमियो स्क्वाड का गठन किया गया है। इस दल में पर्याप्त संख्या में महिला पुलिसकर्मी भी नियुक्त की गई है जो समय समय पर आपके स्कूल/कालेजों मे आती रहती है जिन्हे आप अपनी समस्याये बता सकती है।

● एंटी रोमियो स्क्वाड प्रतिदिन निर्धारित समय पर अपने अपने क्षेत्र में पढ़ने वाले मंदिरों, स्कूलों, कॉलेजों, कोचिंग सेंटरों, मॉल, सिनेमाघर आदि के आस-पास सादे वस्त्रों में घूमते हैं जो वहां छेड़छाड़ या अव्यवस्था फैलाने वाले लफंगो को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कार्यवाही करती हैं।

● एंटी रोमियो स्क्वाड जनता, मीडिया या शिक्षण संस्थानों की मदद से अपने अपने थाना क्षेत्रो में पड़ने वाले छेड़खानी के हॉटस्पॉट को चिन्हित कर आवारा और लफंगे टाइप के लड़कों पर छापामारी कर पुलिस कार्यवाही की जाती है।

● सभी एंटी रोमियो स्क्वायड को निर्देशित किया गया है कि यदि कोई लफंगा बार बार गलती करता है तो उसके खिलाफ उचित धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर कार्यवाही की जाएगी।

● नजदीकी थाने तथा संबंधित क्षेत्राधिकारी व एंटी रोमियो स्क्वायड का सीयूजी नंबर भी उक्त बालिकाओं को प्रोवाइड कराया गया जिससे भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर उनसे सहायता ले।

विमेन पावर लाइन 1090

यदि कोई व्यक्ति आपको फोन करके परेशान कर रहा हो, या फोन से गलत बात बोल रहा हो, फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, ईमेल पर आपत्तिजनक फोटो या मैसेज कर रहा हो, जब आप स्कूल/कालेज या कहीं जा रही हों तो कोई आपका पीछा कर रहा हों, छेड़खानी कर रहा हों या फब्तियां कस रहा हो तो बेझिझक आप विमेन पावर लाइन 1090 को कॉल करके अपनी समस्याएं बता सकती है।

● आपके बारे में 1090 किसी को कुछ नहीं बताता और आपकी पहचान पूरी तरह से गोपनीय रखी जाती है।

● सबसे बड़ी बात यह है कि जब आप फोन करती हैं तो हमेशा महिला अधिकारी द्वारा ही आपका फोन उठाया जाता है और बड़ी विनम्रता से आपकी शिकायत दर्ज की जाती है।

● आपकी शिकायत दर्ज होने के पश्चात आप के मोबाइल नंबर पर 1090 से एक मैसेज आता है, उस मैसेज में आपकी शिकायत संख्या प्राप्त होती है।

●शिकायत दर्ज कराने तथा उसके पश्चात उस पर कार्यवाही होने के बाद 1090 की महिला अधिकारी द्वारा आपसे फोन करके कार्यवाही का फीडबैक भी लिया जाता है यदि आप 1090 द्वारा की गई कार्यवाही से संतुष्ट नहीं है तो पुनः अपनी शिकायत दर्ज करा सकती हैं और आपके शिकायत के पूर्ण समाधान होने तक 1090 के अधिकारी आप के संपर्क में रहते हैं ।

● आप अपने फोन में थाने का, 1090, 100 ,सहित अपने माता पिता या भाई बहन का नंबर अवश्य सुरक्षित रखें और इन नंबरों को याद भी कर ले ताकि आपकी सुरक्षा को यदि कोई खतरा हो तो आप पुलिस या घरवालों तक अपनी सूचना पहुंचा सकें।

              बालिका सुरक्षा, एंटी रोमियो स्क्वायड, यूपी 100, वूमेन पावर लाइन 1090, उत्तर प्रदेश पुलिस की ट्वीटर हैण्डल @uppolice, जनपदीय पुलिस की ट्वीटर हैण्डल @ambedkarnagrpol तथा जनपद के सभी अधिकारियों के सरकारी मोबाइल नम्बर आदि के संबंध में जानकारी दी जा रही है। 



Browse By Tags



Other News