परिवहन महकमा के लिए चुनौती बना ‘महाकाल’
| Rainbow News Network - Aug 6 2019 2:55PM

अम्बेडकरनगर जिले में गाँव की गलियों, मेड़, सम्पर्क मार्गों, शहर की सड़कों व मोहल्ले के गली-कूचों मुख्य सड़क मार्ग पर परिवहन नियमों की धज्जियाँ उड़ाते साथ ही अपनी स्टाइलिश वाहन चालन की वजह से दूसरों की जान के लिए खतरा बने मोटर बाइकर्स पर नियंत्रण लगाये जाने की परम आवश्यकता है। ऐसा तभी सम्भव है जब परिवहन महकमा को पुलिस का सहयोग मिलेगा। यदि मोटर बाइकर्स के डी.एल., हेलमेट व गाड़ी के कागजात चेक करने के साथ-साथ इनके वाहनों के साइलेंसर की स्थिति को भी चेक किया जाए तो जन स्वास्थ्य के लिए काफी उपयोगी साबित होगा। बताना जरूरी है कि विशेष ब्राण्ड की मोटर बाइक जैसे रॉयल इनफील्ड (बुलेट) पर बैठ कर फर्राटा भरने वाले बाइकर्स ध्वनि प्रदूषण के बारे में अनभिज्ञ से दिखते हैं। ठीक उसी तरह जैसे डी.जे. बजाने वाले लोग.......। 

ऐसा नियम विरूद्ध कार्य किसी विशेष गिरोह या तत्वों द्वारा नहीं किया जा रहा है, अपितु ऐसा करना मोटर बाइकर्स का फैशन, शान और शौक बन गया है। यदि कहा जाए कि ये तत्व परिवहन महकमा के लिए चुनौती बने हुए हैं तो कतई गलत नहीं होगा। आश्चर्य होता है कि जिले का परिवहन महकमा काफी सक्रिय है फिर भी ये तत्व अभी भी उसकी निगाह से बचे हुए बेखौफ नियमों का उल्लंघन कर सड़कों पर फर्राटा भरते हुए हादसों का सबब बने हुए हैं। 

विवरण अनुसार आगे महाकाल और पीछे 007 जेम्स बाण्ड या फिर कुछ और लिखा हुआ मोटर बाइक कब आपके लिए मौत का पैगाम लेकर आ जाए इसे कोई नहीं बता सकता। द्रुतगामी मोटर बाइक से कब आपको धक्का लगे, कब अंग-भंग हो जाए और कब आप पी.एम. हाउस के अन्दर पहुँच जाए कहा नहीं जा सकता। धक्के से बचने वाले लोगों द्वारा यदि विरोध किया गया तो उनकी खैर नहीं क्योंकि ये बाइकर्स स्वयं महाकाल और जेम्स बाण्ड बनकर विरोध करने वालों की अच्छी खासी दैहिक समीक्षा करेंगे। साथ ही इस प्रक्रिया के समय उनके मुँह से निकलने वाला खलनायकी शब्द, उच्चारण सामने वाले को इतना आतंकित कर देगा कि सुनने वाले लोग कभी इन विभूतियों के बारे में किसी से जिक्र तक नहीं करेंगे। 

परिवहन महकमे के मुखिया सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी कैलाश नाथ सिंह को इस बावत कठोर कदम उठाने पडं़ेगे जिससे महाकाल, 007 जेम्स बाण्ड आदि लिखकर नियमों को ताक पर रखते हुए गति सीमा लांघकर फर्राटा भरने वालों पर नियंत्रण लग सके। वर्तमान में यह भी आवश्यक है कि जो लोग ऐसा कर रहे हैं उनको चिन्हित किया जाए और समय-समय पर हेलमेट/ वाहन चेकिंग की तरह अभियान चलाकर परिवहन नियमों की अनदेखी करने वाले इन द्रुतगामी मोटर बाइकर्स पर विभागीय नियमानुसार कार्रवाई की जाए। 

इन महाकाल/007 और ध्वनि प्रदूषण को धता बताते हुए फर्राटा भरने वाले बाइकर्स पर परिवहन एवं पुलिस महकमें की पैनी निगाह होनी चाहिए। यदि ऐसा हो जाए तो अपने मोटर बाइक पर महाकाल व 007 जेम्स बाण्ड आदि अंकित करवाकर चलने का दुस्साहस करने वालों पर अंकुश लगेगा। 



Browse By Tags



Other News