सावधान! इस सेतु पर संभल कर गुजरे, आपकी प्रतीक्षा में खड़ी है मौत 
| -Prabhunath Shukla - Aug 12 2019 12:53PM

भदोही। यूपी के भदोही-जौनपुर जिले की सीमा को विभाजित करने वाली वरुणा नदीं पर अभिया के वन घाट पर बने पंड़ित दीनदयाल सेतु के एप्रोच मार्ग में बड़े-बड़े गड्ढ़े बन गए है। पुल से गुजरते वक्त अगर आपने सावधानी न बरती तो आपकी जान जा सकती है। लेकिन भदोही और जौनपुर का लोकनिर्माण विभाग इस तरफ नहीं देख रहा है। जब कोई बड़ा हादसा हो जाएगा तो अफसर दौड़ भाग में जुट जाते हैं।

भदोही और जौनपुर की सीमा को वरुणा नदी विभाजित करती है। नदी के उत्तरी छोर पर जौनपुर जिले का मीरगंज और दक्षिणी छोर पर भदोही जिले का सीमावर्ती क्षेत्र अभिया बाजार स्थित है। भदोही और जौनपुर जिले को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए वरुणा नदी पर पंड़ित दीनदयाल सेतु का निर्माण हुआ है। लेकिन इस पुल का अभी तक लोकार्पण नहीं हुआ। इसकी आधार शिला भाजपा सरकार में तत्कालीन लोकनिर्माण मंत्र कलराज मिश्र ने रखी थी।

भदोही की सीमा तक तो प्रधानमंत्री सड़क का निर्माण हुआ है। लेकिन जौनपुर की सीमा में सड़क का निर्माण नहीं हो पाया है। जौनपुर की सीमा में जैसे ही आप सेतु से अलग होंगे सेतु के बैकवाल की मिट्टी धंस गयी है। जिसकी वजह से सेतु के एप्रोच मार्ग पर बड़े-बड़े मेनहोल बन गए हैं। जौनपुर जिले से एक निजी बस चलती है वह किसी तरह सेतु को पार करता है। जबकि रात में अगर कोई बाइक सवार या फोर व्हीलर चालक उधर से गुजर रहा है तो एप्रोच मार्ग में बने मेनहोल उसकी जान पर बन सकते हैं। रात में बाइक और फोर व्हीलर से गुजरना बेहद खतरनाक है। जिसकी वजह से स्थिति भयावह हो गयी है।

अभिया वन के ग्रामीण नरेंद्र बहादुर सिहं ने बताया कि यह पुल बेहद जानलेवा हो गया है सावधानी न बरती गई तो किसी की भी जान जा सकती है। लेकिन भदोही और जौनपुर लोकनिर्माण विभाग इस तरफ कोई ध्यान नहीं दे रहा है। इस साल बारिश कम हुई है। जिसकी वजह से अभी मेनहोल चैड़े नहीं हुए हैं, लेकिन बाइक और फोर व्हीलर के लिए यह पूरी तरह जानलेवा है। रात में इस सेतु से गुजरना बेहद मुश्किल है। अगर बारिश तेज हुई तो स्थिति बिगड़ सकती है। एप्रोच मार्ग पूरी तरह धंसने से यातायात प्रभावित हो जाएगा। जिसकी वजह से दोनों जिलों का संपर्क टूट सकता है।

Report- प्रभुनाथ शुक्ला



Browse By Tags



Other News