ए.आर.टी.ओ. के.एन. सिंह ने स्वाधीनता दिवस पर कुछ इस तरह कहा....
| Rainbow News Network - Aug 14 2019 3:54PM

देश की वर्तमान पीढ़ी को स्वाधीनता का वास्तविक अर्थ समझने के लिए उसका जागरूक होना अत्यन्त आवश्यक है। जागरूकता से असामयिक होने वाली किसी भी दुर्घटना से बचा जा सकता है। इसके लिए किसी उच्च स्तरीय शैक्षिका योग्यता की आवश्यकता नही है। यह कोई जरूरी नहीं कि हर जागरूक काफी पढ़ा-लिखा ही हो। इसके लिए किसी शैक्षिक संस्थान में प्रवेश लेने की भी आवश्यकता नहीं। बस इतना समझिए कि यदि किसी ने जीवन का सही मायने में मतलब समझ लिया है तो उसका हर कदम सोच समझकर उठना चाहिए, वह चाहे कोई भी क्षेत्र हो। जागरूकता के अभाव में अनचाहे हादसे होते रहते हैं, जो किसी भी व्यक्ति के लिए कष्टदायी होते हैं। जागरूकता के बावत निःशुल्क ज्ञान बांटने वाले की सुनना और उस पर अमल करना हर श्रोता का दायित्व होता है। 

स्वाधीनता दिवस जैसे राष्ट्रीय पर्व की पूर्व संध्या पर हमने एक ऐसे व्यक्ति से भेंट किया जो एक सरकारी मुलाजिम है और उत्तर प्रदेश के परिवहन महकमा में जिम्मेदार ओहदे पर कार्यरत है। सोते, जागते, नींद और सपनों में उसे सिर्फ विभागीय राजस्व में बढ़ोत्तरी, आटो, मोटर बाइकर्स का हेलमेट, चार पहिया वाहनों के चालक और उसका सीट बेल्ट, वाहनों की फिटनेस, नियंत्रित गति सीमा में वाहन चालन, स्कूली वाहनों की फिटनेस, डग्गामार वाहनों की धरपकड़ आदि ही दिखाई पड़ता है। अपने जीवन का साठ बसन्त देख चुके इस व्यक्ति के स्वभाव का सहज एवं सामान्य ढंग से आंकलन कर पाना मुश्किल है। ऊपर से सख्त और अन्दर से नर्म यह व्यक्ति एक स्पष्ट वक्ता के रूप में अपनी पहचान रखता है। अच्छे-अच्छों को इसके रूबरू होने से पहले काफी रिहर्सल करनी पड़ती है। 

रेनबोन्यूज के माध्यम से इस व्यक्ति के बारे में जानने वालों को यह बताना है कि हम बात कर रहे हैं कैलाश नाथ सिंह की जिनका संक्षिप्त नाम के.एन. सिंह है और यह अधिक घनत्व वाला व्यक्तित्व सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी अम्बेडकरनगर है। जिले के परिवहन महकमे में ए.आर.टी.ओ. के रूप में तैनात के.एन. सिंह ने अपने अब तक के 2 वर्षीय कार्यकाल में यहाँ विभागीय उपलब्धियों का कीर्तिमान बनाने के साथ-साथ स्वयं भी शासन व प्रशासन द्वारा सम्मानित किए जा चुके हैं। यह क्रम अब भी जारी है, जो अगले वर्ष इनकी सेवा निवृत्ति तक चलता रहेगा। 

ए.आर.टी.ओ. के.एन. सिंह 

अगस्त 2017 से के.एन. सिंह बतौर ए.आर.टी.ओ. अम्बेडकरनगर में तैनाती के बाद से अपनी कार्य प्रणाली को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहे। नकारात्मक टिप्पणियों के बावजूद इस अधिकारी ने अपना विभागीय/सामाजिक कार्य अपने ढंग से जारी रखा। यहाँ सामाजिक कार्य का आशय परिवहन नियमों के प्रति लोगों को जागरूक करने से है। इन्होंने सोशल मीडिया के जरिए नित्य अपने हित-मित्रों, शुभचिन्तकों, मीडिया ग्रुपों में ऐसे सकारात्मक संदेश भेजना जारी रखा हुआ है, जिनका ताल्लुक सीधे सड़क परिवहन व उसमें बरती जाने वाली सावधानियों के साथ-साथ आम-खास के जीवन मूल्यों से होता है। 

के.एन. सिंह से जब यह कहा गया कि देश के 73वें स्वाधीनता दिवस पर बहैसियत सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी आप जनपद वासियों को क्या संदेश देना चाहेंगे तो उन्होंने कहा कि- शुभकामना और बधाई देना पुरानी परम्परा हो गई है फिर भी मैं उस परम्परा का आगे बढ़ाते हुए उसमें अपने विभाग और अपनी तरफ से यह कहना चाहूँगा कि- सुरक्षित परिवहन के लिए हेलमेट और सीट बेल्ट का इस्तेमाल अवश्य करें। पुलिस व परिवहन महकमे की चेकिंग से बचने के लिए नहीं बल्कि अपने अनमोल जीवन की सुरक्षा के लिए ऐसा करें।

इतना कहकर उन्होंने रेनबोन्यूज के व्हाट्सएप्प पर परिवहन नियमों के प्रति जागरूक करने वाले दो वीडियो क्लिप्स भेज दिया, और स्वाधीनता दिवस की बधाई देते हुए कहा- हैप्पी इन्डिपेन्डेन्स डे, स्वतंत्रता दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएँ। इतना कहकर अपने चैम्बर की कुर्सी से उठकर के.एन. सिंह बुधवार का दिन होने की वजह से पूर्व की भाँति हेलमेट और सीटबेल्ट चेकिंग के लिए निकल पड़े।   



Browse By Tags



Other News