त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी शुरु, शासन ने मांगा डाटा
| - RN. Network - Aug 27 2019 6:06PM

संत कबीर नगर। प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी शुरू हो गई हैं। शासन ने जिलों से पंचायतों का भौगोलिक डाटा मांगा है। पंचायती राज विभाग के अधिकारी जनपद की 794 ग्राम पंचायतों के 1727 गांवों का भौगोलिक नक्शे का डाटा तैयार कर रहे है। जल्द ही इन्हें निदेशालय भेज दिया जाएगा। जिसके आधार पर ग्राम पंचायतों का परिसीमन होने की संभावना है।

चुनाव अगले साल 

2015 में प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव हुए थे। इसलिए 2020 में चुनाव होने की प्रबल संभावना है। क्योकि 2020 में पांच साल पूरे होने हैं। जिसमें ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य शामिल हैं।

तैयारियों को देखते हुए लग रहा है कि इस बार राज्य निर्वाचन आयोग त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने की तैयारी में हैं। विगत दिनों पंचायती राज विभाग के निदेशक राजेंद्र सिंह ने एक पत्र जारी कर सभी जिलों से ग्राम पंचायतों के नक्शे मांगे हैं।

नोटा का प्रयोग पहली बार

सूत्रों के अनुसार आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में पहली बार नोटा का प्रयोग होने की प्रबल संभावना है। इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग त्वरित गति से काम कर रहा है।  ज्ञात हो कि अभी तक लोकसभा और विधानसभा चुनावों में मतदाताओं को नोटा का विकल्प मिलता था। इस नियम के अनुसार मतदाता उम्मीदवारों में किसी के भी पसंद न आने पर नोटा (इनमें से कोई नहीं) के विकल्प का प्रयोग  करेगा।

मतदाता सूची

इस बार विगत चुनाव की भांति ग्राम पंचायत चुनाव के लिए मतदाता सूची नहीं बनाई जाएगी। इस बार विधानसभा और लोकसभा चुनाव में प्रयोग की गयी मतदाता सूची का ही प्रयोग होगा। क्योकि पंचायत चुनाव के दौरान अलग से मतदाता सूची बनाने से अनेक प्रकार की त्रुटियां रह जाती हैं जिन्हें विधानसभा और लोकसभा के चुनाव मतदाता सूचियों के प्रयोग से दूर  होने की संभावना है।

रिपोर्ट- नवनीत मिश्रा



Browse By Tags



Other News