इमाम हुसैन अ.स. की शहादत से इंसानियत को बुलंदी हासिल हुई
| Rainbow News Network - Sep 6 2019 4:32PM

जौनपुर। आज 6 मोहर्रम को शिया जामा मस्जिद नवाब बाग में नमाज ए जुमा के खुत्बे में मदरसा इमानिया नासिरिया जौनपुर के अध्यापक मौलाना सै. मुब्बशिर हुसैन रिजवी ने कहा कि इमाम हुसैन अ.स. की शहादत से इंसानियत को बुलंदी हासिल हुई है। आज जब मानवता को शांति की जरूरत है तो करबला में इमाम हुसैन द्वारा दी गई कुर्बानी दुनिया के लिए प्रेरणा बन सकती है। मौलाना सै. मुब्बशिर हुसैन रिजवी ने नमाज ए जुमा पढ़ाई उसके बाद तालिब जैदी, बादशाह हुसैन ने नौहा पढ़ा काफी संख्या में नौहा मातम करके नमाजियों ने इमाम हुसैन को नजरानय अकीदत पेश किया।

शिया जामा मस्दिज के मुतवल्ली शेख अली मंजर डेज़ी ने कहा कि करबला की मार्मिक घटना पूरी दुनिया को यह संदेश देती है कि अत्याचार के खिलाफ हमेशा आवाज बुलंद की जानी चाहिए। इसी क्रम में इमामबाड़ा नाजिम अली खां मोहल्ला नसीब खां मंडी में 6 मोहर्रम की मजलिस को सम्बोधित करते हुये जा़किरे अहलेबैत अ.स. सैयद असलम नकवी ने कहा कि आज जो हालात दुनिया के है उस परिपेक्ष में इमाम हुसैन की शिक्षा को दुनिया के सामने आर्दश के रूप में पेश किया जाना चाहिए जिससे मानवता को उच्च स्तर प्राप्त हो।

मजलिस में शाहिद हुसैन खां, डा. टी एच खान, ए एम डेजी, तहसीन अब्बास सोनी, सैयद परवेज हसन, अफरोज हसन, मिर्जा मेराज बेग, तालिब रजा शकील एडवोकेट, डा. हाशिम खां, नासिर रजा गुड्डू, हीरा, नासिर हुसैन एडवोकेट, मोहम्मद ताज, सैयद अब्बास हैदर, लड्डन खां, सादिक हुसैन उर्फ राजा इत्यादी मजलिस में उपस्थित थे।



Browse By Tags



Other News