डा. नृपेन्द्र को मलेशिया में मिला बेस्ट पेपर अवार्ड
| Rainbow News Network - Sep 19 2019 5:12PM

नीम के जेल से परिवार नियोजन पर प्रस्तुत किया शोध पत्र

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के फार्मेसी संस्थान के शिक्षक डा. नृपेंद्र सिंह को एआईएमएसटी विश्वविद्यालय मलेशिया में आयोजित दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में बेस्ट रिसर्च पेपर प्रस्तुतिकरण पर अवार्ड मिला। जिसमें विश्व के विभिन्न देशों से 177 शोधार्थियों एवं वैज्ञानिकों ने प्रतिभाग किया। पूर्वांचल विश्वविद्यालय के शिक्षक डा. नृपेन्द्र सिंह ने मलेशिया में आयोजित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में नीम की पत्तियों का शुक्राणुओं पर प्रभाव विषयक शोध पत्र प्रस्तुत किया। जिस पर उन्हें बेस्ट रिसर्च पेपर अवार्ड से सम्मानित किया गया।

डा. नृपेन्द्र सिंह ने बताया कि नीम की पत्तियों से बने जेल में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो शुक्राणुओं को मृत कर देते हैं। गर्भनिरोधक के रूप में जनसंख्या नियंत्रण के लिए इसका प्रयोग किया जा सकता है। चूहों के ऊपर प्रायोगिक तौर पर इसका सफल प्रयोग किया जा चुका है। भारत में जनसंख्या नियंत्रण और परिवार नियोजन के लिए यह बहुत ही लाभकारी होगा। गुरुवार को डा. नृपेंद्र को विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डा. राजाराम यादव ने बेस्ट पेपर अवार्ड पाने के लिए बधाई दी।

कहा कि विश्वविद्यालय शिक्षकों को शोध के लिए हरसंभव सहायता प्रदान करेगा जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराएगा। डा. सिंह की उपलब्धि पर फार्मेसी काउंसिल आफ इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट प्रो. शैलेंद्र सर्राफ ने भी बधाई दी है। इस अवसर पर वित्त अधिकारी एमके सिंह, कुलसचिव सुजीत कुमार जायसवाल, प्रो. वंदना राय, डा. मनोज मिश्र, डा. दिग्विजय सिंह राठौर, डा. पुनीत धवन, सुरेन्द्र कुमार सिंह आदि मौजूद रहे।
 



Browse By Tags



Other News