280 जलालपुर विस उपचुनाव : ब्राह्मण मतो को भाजपा के पक्ष में रोके रखना होगी बड़ी चुनौती 
| - Rangnath Dwivedi - Oct 1 2019 5:53PM

ब्राह्मण मतदाता उपचुनाव में निभाएंगे अपनी महत्वपूर्ण भूमिका

अम्बेडकरनगर जनपद में होने जा रहे 280 जलालपुर विधान सभा उप चुनाव में नामाँकन प्रक्रिया समाप्त होने के साथ ही चुनावी तस्वीर भी सामने आ गयी है। भाजपा से राजेश सिंह, सपा से सुभाष राय ,बसपा से छाया वर्मा व कांग्रेस से सुनील मिश्र मैदान में आ गए हैं। अब सवाल यह उठ रहा है कि इस उप चुनाव का परिणाम अगर चौकाने वाला आये तो कोई अतिशयोक्ति नही होगी। इस विधान सभा क्षेत्र के अब तक के परिणामो पर अगर गौर करे तो यंहा भाजपा कभी भी अपना खास प्रभाव नही दिखा पाई है।

भाजपा प्रत्याशी राजेश सिंह के पिता शेर बहादुर सिंह ने भाजपा से अवश्य जीत दर्ज की थी उसका कारण उनका अपना निजी ब्यक्तित्व रहा। लेकिन 2002 के विधानसभा चुनाव के बाद से अब तक यंहा भाजपा तीसरे अथवा चौथे स्थान पर रही । इस विधान सभा के चुनाव परिणामो पर ब्राह्मण मतदाताओ का झुकाव काफी महत्वपूर्ण रहा है। ब्राह्मण मतदाता जिस करवट बैठते रहे हैं, परिणाम उसी के पक्ष में गया है।

इस बार के उपचुनाव में ब्राह्मण मतदाता जिधर का रुख करेगा , परिणाम उधर होगा।  वही पूर्व में भाजपा के एक कार्यक्रम के दौरान जिस प्रकार से भाजपा के जिलाध्यक्ष द्वारा प्रतीक पांडेय को अपमानित किया गया तथा मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के दौरान पूर्व सांसद हरिओम पांडेय को जिस प्रकार किनारे रखा गया ,उससे ब्राह्मण मतदाताओ को भाजपा के पक्ष में बनाये रखना किसी बड़ी चुनौती से कम नही होगा। मौजूदा समय में जिले की भाजपा  इकाई में ऐसा कोई ब्राह्राण चेहरा नही दिख रहा है जो ब्राह्मण मतदाताओ को भाजपा के पक्ष में रोके रहने के लिए प्रभावी भूमिका अदा कर सके।

इस विधान सभा क्षेत्र में लगभग 55 से 60 हजार की संख्या में ब्राह्मण मतदाता  है , ऊंट किस करवट बैठेगा,यह परिदृश्य अभी साफ नही  है लेकिन बर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में वह भाजपा के साथ रहेंगे ,इसकी भी सम्भावना कम ही प्रतीत हो रही है। दो ब्राह्मण प्रत्याशी सुभाष राय व सुनील मिश्र के मैदान में आ जाने के कारण उनके सजातीय मतो को रोके रख पाना भाजपा के लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नही होगा। अब स्थिति यह बन रही है,कि जलालपुर विधान सभा का उप चुनाव  पूरी तरह त्रिकोणीय होने की प्रबल संभावना बन रही है।

(यह लेखक के निजी विचार हैं)



Browse By Tags



Other News