सऊदी अरब के होटलों में महिला-पुरुष को एक ही रूम शेयर करने की मिली मंजूरी!
| Agency - Oct 9 2019 12:46PM

खाड़ी देशों के सबसे बड़े मुस्लिम गणराज्‍य सऊदी अरब ने अब अपने यहां पर होटलों में विदेशी महिला और पुरुषों को एक साथ कमरे में रुकने की मंजूरी दे दी है। सऊदी अरब ने विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के मकसद से नया वीजा प्रोग्राम लॉन्‍च किया है।

इस नए कार्यक्रम के जरिए इस देश के बदलते रुख की झलक देखने को मिली है।  इस नए वीजा प्रोग्राम पहले से सऊदी अरब में एक कमरे में पुरुष और महिला साथ में नहीं रुक सकते थे। विदेशी सैलानियों के लिए आकर्षित करने के लिए सऊदी अरब एक के बाद एक नयी ढील देता जा रहा है। कुछ दिन पहले 19 सूत्रीय व्यवहार संहिता जारी की गयी थी, जिसमें विदेशी सैलानियों को मनपसंद के कपड़े पहनने की छूट दी गयी थी।

दरअसल, सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान सऊदी अरब की तेल आधारित अर्थव्यवस्था को टूरिज्म पर बेस्ड करना चाहते हैं। उनका लक्ष्य 2030 तक अर्थव्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन लाना है। इसी के तहत नियमों में विदेशी सैलानियों को छूट दी जा रही है।

सऊदी अरब में अभी तक विदेशी महिला और पुरुष पर्यटकों को होटल के कमरे में रुकने के लिए साबित करना होता था कि वो अपने देश में भी एक साथ ही रहते हैं। अगर वह यह साबित करने में असफल रहते तो उन्‍हें कमरा नहीं मिल पाता था। इस देश ने अपने एक और नियम को बदला है। इस देश में सऊदी महिलाओं समेत विदेशी महिलाएं भी अपने लिए होटल रूम बुक करा सकेंगी। इस एतिहासिक फैसले के बाद अब यहां पर महिलाओं को सफर करने में और ज्‍यादा आसानी हो सकेगी।

इसके वहीं विदेशी महिलाओं को भी रुकने में सहूलियत मिल सकेगी। सऊदी अरब में शादी के बिना शारीरिक संबंध प्रतिबंधित है। सऊदी अरब ने पिछले हफ्ते 49 देशों के पर्यटकों के लिए अपने दरवाजे खोले हैं। देश की सरकार चाहती है कि तेल निर्यात से अलग यहां की अर्थव्‍यवस्‍था पर्यटन की मदद से भी आगे बढ़े।



Browse By Tags



Other News