पुलिस मुठभेड़ में मारा गया कुख्यात ईनामिया बदमाश लक्ष्मण यादव
| - RN. Network - Oct 10 2019 6:04PM

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अम्बेडकरनगर और आजमगढ़ जनपद की सीमा पर गुरूवार की सुबह ढाई लाख का ईनामिया कुख्यात बदमाश लक्ष्मण यादव पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। उसका एक साथी मौके से भागने में सफल रहा। मारे गए इस कुख्यात बदमाश पर 42 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। लक्ष्मण यादव पर आजमगढ़ पुलिस ने डेढ़ लाख और अम्बेडकरनगर पुलिस ने 1 लाख का ईनाम घोषित कर रखा था।

प्राप्त विवरण अनुसार अम्बेडकरनगर के राजेसुल्तानपुर थाना क्षेत्र के चोरमरा कमालपुर गाँव व पदुमपुर बाजार में बीते माह की 10 सितम्बर की सुबह बदमाश लक्ष्मण यादव ने दो लोगों को गोली मारकर आतंक फैलाया था। पुलिस के अनुसार लक्ष्मण यादव एक प्रधान की हत्या के प्रयास में था, परन्तु इस घटना को अंजाम देने के पहले ही उसे पुलिस टीम द्वारा मार गिराया गया। उल्लेखनीय है कि चोरमरा कमालपुर गाँव में मोटर साइकिल सवार दो बदमाशों ने 10 सितम्बर की सुबह रविन्द्र कुमार सिंह को गोली मारने के बाद पदुमपुर बाजार में डॉ लक्ष्मीकांत यादव को भी गोली मार दी थी।

इस घटना गोली लगने से गम्भीर रूप से घायल रविन्द्र कुमार सिंह की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। रविन्द्र सिंह और डॉ. लक्ष्मीकान्त यादव पर हुए कातिलाना हमले के बाद आतंक बरपाने वाले के रूप में लक्ष्मण यादव का नाम प्रमुखता से सामने आया था। मुठभेड़ में ढेर कुख्यात बदमाश महराजगंज जिले के देवारा जदीद गाँव का निवासी था। अम्बेडकरनगर जिले के पूर्वांचल स्थित राजेसुल्तानपुर थाने से दो किलोमीटर दूर आजमगढ़ सीमा पर हुई इस मुठभेड़ की जानकारी मिलते ही अम्बेडकरनगर जिले की स्वाट टीम व राजेसुल्तानपुर पुलिस भी मौके पर पहुँची।

पुलिस को मौके से एक पिस्टल व मोटर साइकिल मिली। मारे गए बदमाश की तलाश अम्बेडकरनगर जिले की पुलिस रविन्द्र सिंह हत्याकाण्ड में कर रही थी। अम्बेडकरनगर जिले की पुलिस द्वारा उस पर 1 लाख रूपए का ईमान घोषित किया गया था। 



Browse By Tags



Other News