हैदराबाद कांड के चारों आरोपी पुलिस मुठभेड़ में ढेर
| Agency - Dec 6 2019 3:54PM

हैदराबाद में पशु चिकित्सक के गैंग रेप और मर्डर की घटना ने पूरे देश की रूह को झकझोर दिया था लेकिन 6 दिसंबर को उस वक्त थोड़ी राहत मिली जब उन चारों आरोपियों के एनकाउंटर की खबर सामने आयी। इन सभी आरोपियों को पुलिस रिमांड में रखा गया था। पुलिस इन चारों को उसी स्थान पर क्राइम सीन रीक्रिएशन करने ले गई थी जहां उस पीड़िता को आग के हवाले किया गया था। आरोपियों ने धुंध का फायदा उठाकर घटनास्थल से भागने की कोशिश की और पुलिस ने आरोपियों को रोकने के लिए फायरिंग की जिसमें उनकी मौत हो गयी।

कुछ दिन पहले हैदराबाद की इस घटना के कारण पूरे देश में रोष फैल गया था। भारत के नेशनल क्राइम रिकार्ड्स ब्यूरो (NCRB) के आंकड़ों के मुताबिक, देश में रोजाना यौन हिंसा के लगभग 100 मामले दर्ज किए जाते हैं। 2017 के डाटा के अनुसार 32,000 रेप केस दर्ज हुए लेकिन जानकारों ने ये भी स्वीकार किया कि समाज के डर और लोक-लाज की वजह से कई महिलाएं यौन शोषण की शिकायत दर्ज नहीं करवाती हैं।

गौरतलब है कि 27-28 नवंबर की रात को इन चारों आरोपियों ने महिला पशु चिकित्सक के साथ वारदात को अंजाम दिया था। महिला पशु चिकित्सक अपने काम से लौट रही थीं तब उन चारों आरोपियों ने उसकी स्कूटी पंक्चर कर दी थी। उन्होंने महिला डॉक्टर को मदद की पेशकश की और फिर उसे सुनसान इलाके में ले गए। वहां महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या कर दी गई तथा पेट्रोल डालकर शव को आग के हवाले कर दिया।

पुलिस को फ्लाईओवर के नीचे महिला की अधजली लाश मिली थी। पुलिस द्वारा आरोपियों के पकड़े जाने के बाद से जनता शीघ्र ट्रायल और न्याय की मांग कर रही थी। हैदराबाद रेप-मर्डर केस के चारों आरोपियों की पुलिस एनकाउंटर में मौत के बाद ट्विटर पर लोग अपनी प्रतिक्रिया देने आगे आए हैं। पुलिस मुठभेड़ की इस घटना को लेकर हर खास और आम पुलिस की सराहना कर रहा है। साथ ही महिला पशु चिकित्सक को श्रद्धांजलि भी दे रहे हैं।



Browse By Tags



Other News