क्रिकेट मैदान में भी सर्जिकल स्ट्राइक, भारत ने पाक को धो डाला
| Agency - Jun 5 2017 12:21PM

बर्मिंघम। बल्लेबाजी में रंग जमाने के बाद गेंदबाजी में भी कमाल दिखाते हुए गत चैम्पियन भारत ने आईसीसी चैम्पियंस ट्राफी के वर्षा से प्रभावित ग्रुप बी के एकतरफा मैच में आज यहां पाकिस्तान को डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत 124 रन से हराकर अपने अभियान की विजयी शुरूआत की। युवराज सिंह मैन ऑफ द मैच रहे। डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत 41 ओवर में 289 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की टीम उमेश यादव (30 रन पर तीन विकेट), रविंद्र जडेजा (43 रन पर दो विकेट) और हार्दिक पंड्या (43 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने 33.4 ओवर में 164 रन ही बना सकी। वहाब रियाज चोटिल होने के कारण बल्लेबाजी के लिए नहीं उतरे। पाकिस्तान का कोई बल्लेबाज टिक कर नहीं खेल पाया और उसकी ओर से अजहर अली ने सर्वाधिक 50 रन बनाए जबकि मोहम्मद हफीज ने 33 रन का योगदान दिया।

चैम्पियंस ट्राफी के चार मैचों में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की यह दूसरी जीत है जबकि दो बार उसे हार का सामना करना पड़ा है। इससे पहले भारत ने रोहित (91), कप्तान विराट कोहली (नाबाद 81), सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (68) और युवराज सिंह (53) के अर्धशतकों की बदौलत तीन विकेट पर 319 रन बनाए। रोहित ने 119 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और दो छक्के जड़ने के अलावा धवन के साथ पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़कर टीम को शानदार शुरूआत दिलाई। अंत में कोहली और युवराज ने तीसरे विकेट के लिए सिर्फ 9.4 ओवर में 93 रन की साझेदारी की। कोहली ने 68 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और तीन छक्के जड़े जबकि युवराज ने 32 गेंद की अपनी पारी में आठ चौके और एक छक्का मारा। पंड्या ने सिर्फ छह रन में नाबाद 20 रन बनाए। भारतीय बल्लेबाजों ने अंतिम चार ओवर में ताबड़तोड़ शाट खेलते हुए 72 रन बटोरे। लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाजों अजहर अली और अहमद शहजाद ने जब 4.5 ओवर में 22 रन बनाए थे तब बारिश आ गई और मैच रोकना पड़ा। मैच दोबारा शुरू होने पर पाकिस्तान को 41 ओवर में 289 रन बनाने का लक्ष्य मिला।

अजहर ने जसप्रीत बुमराह पर दो चौके जड़े जबकि भुवनेश्वर कुमार (23 रन पर एक विकेट) पर भी चौका मारा। भुवनेश्वर ने हालांकि अहमद शहजाद (12) को पगबाधा करके पाकिस्तान को पहला झटका दिया। बाबर आजम (08) ने उमेश पर चौका जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बैकवर्ड प्वाइंट पर जडेजा को कैच दे बैठे। अजहर हालांकि 37 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब पंड्या की गेंद पर लांग आन पर भुवनेश्वर ने उनका कैच टपका दिया। अजहर हालांकि इसका फायदा नहीं उठा पाए। उन्होंने जडेजा की गेंद पर एक रन के साथ 64 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसी ओवर में बाउंड्री पर पंड्या को कैच दे बैठे। उन्होंने 65 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे। शोएब मलिक (15) ने पंड्या पर लगातार दो चौकों के साथ 22वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। उन्होंने जडेजा पर पारी का पहला छक्का भी मारा लेकिन उमेश के अगले ओवर में जडेजा ने उन्हें अपने सटीक निशाने से रन आउट करके पाकिस्तान का स्कोर चार विकेट पर 114 रन कर दिया।

मोहम्मद हफीज भी 43 गेंद में 33 रन बनाने के बाद जडेजा की गेंद को डीप मिडविकेट पर भुवनेश्वर के हाथों में खेल गए जबकि अगले ओवर में इमाद वसीम (00) को पंड्या की गेंद पर केवर में केदार जाधव को कैच थमाया। कप्तान सरफराज अहमद (15) भी पंड्या के अगले ओवर में विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी को कैच दे बैठे जिससे पाकिस्तान का सातवां विकेट गिरा। पाकिस्तान को अंतिम 10 ओवर में जीत के लिए 135 रन की दरकार थी जो लक्ष्य उसके लिए नामुमकिन साबित हुआ। जाधव ने उमेश की गेंद पर शादाब खान (नाबाद 14) का कैच छोड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में मोहम्मद आमिर (09) का कैच लपककर अपनी इस गलती को सुधारने की कोशिश की। उमेश ने इसी ओवर में हसन अली (00) को धवन के हाथों कैच कराके पाकिस्तान की पारी का अंत किया। इससे पहले पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने टास जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी करने का न्यौता दिया जिसके बाद रोहित और धवन ने टीम को शानदार शुरूआत दिलाई। दोनों ने तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर और बायें हाथ के स्पिनर इमाद वसीम के सामने धीमी शुरूआत की।

भारतीय टीम पहले पांच ओवर में सिर्फ 15 रन बना सकी जिसमें एकमात्र चौका रोहित ने आमिर पर जड़ा। रोहित अधिक धीमा खेले लेकिन लय में आने पर उन्होंने वसीम और हसन अली (70 रन पर एक विकेट) पर चौके मारे। भारत का स्कोर 9.5 ओवर में जब बिना विकेट के 46 रन था तो बारिश आ गई जिसके कारण लगभग 50 मिनट तक खेल रूका रहा। रोहित ने हसन पर चौके के साथ 11वें ओवर में टीम के 50 रन पूरे किए। रोहित ने शादाब खान (52 रन पर एक विकेट) पर छक्के के साथ 71 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। धवन ने तेज गेंदबाज वहाब रियाज पर लगातार तीन चौके मारे और फिर अगली गेंद में दो रन के साथ सिर्फ 48 गेंद में 50 रन पूरे किए। धवन ने शादाब पर छक्का जड़ा लेकिन इसी लेग स्पिनर पर एक और छक्का जड़ने की कोशिश में बाउंड्री पर अजहर अली को कैच दे बैठे। कप्तान विराट ने चौके के साथ 28वें ओवर में टीम के 150 रन पूरे किए। भारत का स्कोर हालांकि जब 33.1 ओवर में एक विकेट पर 173 रन था तो दोबारा बारिश आ गई और दोबारा मैच शुरू होने पर इसे 48 ओवर का कर दिया गया। रोहित ने वहाब की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ रन गति में इजाफा करने की कोशिश की लेकिन तेज रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए। रोहित ने जब रन पूरा करने के लिए कूद लगाई तो उनका बल्ला तो क्रीज पार कर गया लेकिन हवा में उठ गया जिस पर तीसरे अंपायर ने उन्हें रन आउट करार दिया। उन्होंने 119 गेंद की पारी में सात चौके और दो छक्के लगाए।

युवराज ने वहाब पर चौके के साथ 38वें ओवर में भारत का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। वह हालांकि अगले ओवर में भाग्यशाली रहे जब शादाब की गेंद हसन अली ने लांग आफ पर उनका कैच टपका दिया। कोहली को बीच के ओवरों में बल्लेबाजी में काफी परेशानी हो रही थी। युवराज जहां रंग में नजर आए वहीं कोहली को रन बनाने के लिए जूझना पड़ा। आमिर ओवर के बीच में चोटिल होकर वापस लौट गए। वहाब की गेंद पर कोहली को 43 रन निजी स्कोर पर जीवनदान भी मिला। युवराज ने इससे पहले आमिर पर चौका और हसन अली पर लगातार दो चौके मारे। हसन अली के 45वें ओवर में कोहली ने छक्के के साथ 58 गेंद में अर्धशतक पूरा किया जबकि इसी ओवर में युवराज ने दो चौके मारे। कोहली ने वहाब के अगले ओवर में वहाब की लगातार गेंदों पर दो चौके और छक्का मारा जबकि युवराज ने भी इस ओवर में चौके के साथ सिर्फ 29 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। इसी ओवर में वहाब भी पैर में चोट के कारण वापस लौट गए। युवराज 49वें ओवर में हसन अली की सीधी गेंद को चूककर पगबाधा हो गए। कोहली ने इस ओवर में लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़ा। हार्दिक पंड्या ने अंतिम ओवर की पहली गेंद में वसीम पर छक्के के साथ स्कोर 300 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने अगली दो गेंद पर भी छक्के जड़े। कोहली ने अंतिम गेंद पर चौके के साथ पारी का अंत किया। वहाब काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने 8.4 ओवर में 87 रन लुटाए। वसीम ने भी 9.1 एक ओवर में 66 रन खर्च किए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर भारतीय टीम को जीत की बधाई दी है। दूसरी ओर स्टेडियम में खेल के दौरान भारतीय प्रशंसकों के खेमे में लगातार उत्साह और जोश देखा गया। इधर, भारतीय टीम की जीत के बाद देश भर में उत्सव का माहौल है और विभिन्न शहरों से मिल रही रिपोर्टों के मुताबिक युवकों और लोगों की टोलियां पटाखे चलाकर और ढोल की थाप पर नृत्य कर भारत की जीत का जश्न मना रहे हैं।



Browse By Tags



Other News