नगर आपका है इसे स्वच्छ और साफ-सुथरा रखना आपकी भी जिम्मेदारी है: सुरेश कुमार मौर्य 
| - Editor - Jan 9 2020 2:42PM

31 जनवरी तक चलेगा स्वच्छ सर्वेक्षण अभियान 

नया साल 2020 लगते ही उत्तर प्रदेश सूबे का जनपद अम्बेडकरनगर और उसका मुख्यालयी शहर अकबरपुर/शहजादपुर में स्वच्छ सर्वेक्षण सफाई अभियान भी शुरू हो गया। यह अभियान 04 जनवरी से शुरू होकर 31 जनवरी तक चलेगा। यह विशेष अभियान प्रदेश सरकार के आदेश पर चलाया जा रहा है। इसको सफल बनाने में सभी नगर निकायों के ओहदेदार व सीमा क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों की सहभागिता भी अपेक्षित है। जहाँ निकायों के अधिकारी/कर्मचारी स्वच्छ भारत मिशन के तहत साफ-सफाई व्यवस्था चौचक रखने पर अपना ध्यान केन्द्रित रखेंगे वहीं वार्डों में रहने वाले लोग सड़कों, गली, मोहल्लों, कूचों और नालियों पर साफ सफाई को लेकर विशेष दृष्टि रखेंगे। इसके लिए निकायों के चयनित पदाधिकारी व सदस्य तथा नपाप के अधिकारी एवं कर्मचारी प्रतिबद्ध दिखने लगे हैं। साथ ही स्वच्छ भारत मिशन के समन्वयक भी इस अभियान को सफल बनाने के लिए जुटे हुए हैं और कार्यों की निगहबानी कर रहे हैं। हमने इस विशेष अभियान के बावत अकबरपुर नगर पालिका परिषद के अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य से बातचीत की जिसका मुख्य अंश यहाँ प्रस्तुत कर रहे हैं। -रीता विश्वकर्मा, सम्पादक

स्वच्छ सर्वेक्षण अभियान 2020 को गति देने के लिए प्रदेश के सभी निकायों को नये साल की 4 जनवरी से लेकर 31 जनवरी तक बेहतर सफाई के लिए प्रदेश शासन द्वारा निर्देशित किया गया है। इसके अनुपालन में नगर पालिका परिषद अकबरपुर क्षेत्र में अभियान ने जोर पकड़ लिया है। उक्त जानकारी नपाप के अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य ने देते हुए बताया कि नपाप अकबरपुर क्षेत्र के सभी 25 वार्डों में स्वच्छ भारत मिशन के तहत सर्वेक्षण अभियान चलाया जा रहा है। 31 जनवरी तक चलने वाले इस अभियान के अन्तर्गत नपा अकबरपुर क्षेत्र सीमा के तहत आने वाले सभी वार्डों, मार्गों, गली-कूचों, मोहल्लों में स्वच्छता के दृष्टिगत सफाई के कार्य पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाएगा। 

ई.ओ. मौर्य के अनुसार इस अभियान का मुख्य उद्देश्य नपाप अकबरपुर को स्वच्छता की दृष्टि में नम्बर वन बनाना है। उन्होंने कहा कि इस अभियान की सफलता के लिए नपाप के सभी ओहदेदार नगरजनों को जागरूक कर रहे हैं। अधिशाषी अधिकारी के अनुसार यदि नगरजन अपने आस-पास, सड़कों, गलियों, कूचों व जल निकासी हेतु निर्मित नालियों की साफ-सफाई का ध्यान दें (उसे स्वयं गन्दा न करें) तो नगर देखने में सुन्दर तो लगेगा ही साथ ही लोग संक्रामक बीमारियों से भी महफूज रहेंगे। 

नपाप के ई.ओ. सुरेश कुमार मौर्य ने बताया कि उन्होंने पालिका के सभी कर्मियों को निर्देशित किया है कि नगर की सफाई में किसी सभी प्रकार की कोताही या हीला-हवाली न बरती जाये। यदि खामियां मिलीं तो सम्बन्धित के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी। मौर्य ने बताया कि नपाप के सभी 25 वार्डों के सभासदों को जिला समन्वयक (स्वच्छ भारत मिशन) सत्य प्रकाश मिश्रा द्वारा निर्देशित किया गया है कि नगर में कहीं भी गन्दगी नहीं मिलनी चाहिए, इसके लिए वे लोग अपने-अपने वार्डों पर विशेष नजर रखें। इसी तरह की बातें नपाप अध्यक्ष सरिता गुप्ता ने भी कहीं। उन्होंने भी लोगों से साफ-सुथरा रहने व नगर को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान देने की बातें कहीं।

अधिशाषी अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य ने कहा कि यदि साफ-सफाई के प्रति किसी भी प्रकार की शिकायत हो तो नगरजन इस सम्बन्ध में स्वच्छता एक्ट के तहत पोर्टल पर ऑन लाइन शिकायत दर्ज करा सकते हैं। उन्हें जैसे ही शिकायत मिलेगी उस पर त्वरित ढंग से कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने नगर जनों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि नगर आपका है, इसे स्वच्छ रखना आपकी भी जिम्मेदारी है। हम तो जुटे ही हैं आपका भी योगदान अपेक्षित है। आपका सहयोग हमारा उत्साहवर्धन करेगा। इसे साफ-सुथरा रखने में हम कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगे......। नगरजनों से अपेक्षा की जाती है कि वे लोग अपने घरों का गीला और सूखा कचरा निर्धारित कचरा डिब्बों में ही डालें। 



Browse By Tags



Other News