पटना के जेडी महिला कॉलेज में बुर्का पहनने पर रोक
| Agency - Jan 25 2020 1:52PM

पटना के एक महिला कॉलेज में बुर्के को लेकर फरमान पर विवाद हो गया है। पटना के जेडी वीमेंस कॉलेज में ड्रेस कोड लागू किया गया है, जिसके तहत छात्रां को कैंपस में बुर्का पहनकर आने की मनाही है। अगर को नियम तोड़ता हुआ पाया जाता है तो उस पर 250 रुपये का जुर्माना लगेगा। वहीं छात्राओं ने इस पर आपत्ति जतायी है। छात्राओं का कहना है कि बुर्के से कॉलेज को क्या दिक्कत हो सकती है। ये नियम थोपने वाली बात है।

वहीं के कॉलेज के प्रिंसिपल श्यामा राय का कहना का है कि 'यह घोषणा नये सेशन के ओरिएंटेशन के समय ही छात्राओं  के सामने की जा चुकी थी। हमने ये नियम छात्राओं में एकरूपता लाने के लिए बनाये हैं। छात्राएं बुर्का पहन कर आ सकती हैं, लेकिन कैंपस में प्रवेश करते ही बुर्का उतार कर क्लास करें। शनिवार के दिन छात्राएं अन्य ड्रेस पहन सकती हैं। शुक्रवार तक उन्हें ड्रेस कोड में आना है।'

कुछ मौलानाओं ने इसपर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा है कि यदि पाबंदी लगी है तो इसका विरोध किया जाएगा। जेडी वूमेंस कॉलेज का यह कदम गलत है। इससे प्राचार्या की मानसिकता का पता चलता है। उनका आरोप है कि एक खास तबके को निशाना बनाया जा रहा है। यह समाज को तोड़ने वाला कदम है।

पटना उच्च न्यायालय की वरिष्ठ अधिवक्ता प्रभाकर टेकरीवाल ने कहा कि वकील अदालतों के लिए बने ड्रेस का पालन करते हैं। कोर्ट में कोई बुर्का पहनकर नहीं आता। ऐसे में कॉलेज के मामले में भी आपत्ति का कोई औचित्य नहीं है। इसे कानून भी अवैध नहीं ठहराया जा सकता।



Browse By Tags



Other News