हनुमान एक ऐसे भगवान जो शुरु से अंत तक दिल्ली के चुनाव में छाए रहे
| Agency - Feb 8 2020 4:00PM

दिल्ली विधानसभा चुनाव भले ही आखिरी दौर में पहुंच चुका है, बावजूद इसके प्रदेश में सियासी घमासान थमता नहीं दिख रहा है। खास बात ये है कि इस चुनाव में शुरू से वोटिंग के दिन तक हनुमान जी को लेकर जमकर सियासत देखने को मिली। 8 फरवरी यानी शनिवार को जब दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर जनता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर रही थी, इस दौरान भी हनुमान जी के मुद्दे पर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के दिग्गज नेताओं के बीच ट्विटर वॉर देखने को मिला। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को निशाने पर लिया, जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से उन पर पलटवार किया।

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने शनिवार को अरविंद केजरीवाल का एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, 'देखिये, चुनावी हनुमानभक्त केजरीवाल का सच...जिन हाथों से जूते उतारे, उन्हीं हाथों से फेंकी बाबा पर फूलों की माला! अपमान आप करे हैं हिंदू धर्म का @ArvindKejriwal..video तो आप का ही है।' मनोज तिवारी के इस ट्वीट पर आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने पलटवार किया।

AAP सांसद संजय सिंह ने लिखा, 'भाजपा, अरविंद केजरीवाल को अछूत मानती है। मनोज तिवारी कह रहे हैं "केजरीवाल ने हनुमान जी की पूजा करके भगवान बजरंग बली को अशुद्ध कर दिया उनको धोना पड़ा।" केजरीवाल से इतनी नफ़रत और घृणा क्यों? दिल्ली की जनता से अपील है आपके बेटे केजरीवाल को अछूत मानने वाली भाजपा को जवाब दें।'
वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी इस मुद्दे पर 8 फरवरी को ट्वीट करके कहा, 'जब से मैंने एक TV चैनल पे हनुमान चालीसा पढ़ा है, भाजपा वाले लगातार मेरा मज़ाक़ उड़ा रहे हैं। कल मैं हनुमान मंदिर गया। आज भाजपा नेता कह रहे हैं कि मेरे जाने से मंदिर अशुद्ध हो गया। ये कैसी राजनीति है? भगवान तो सभी के हैं। भगवान सभी को आशीर्वाद दें, भाजपा वालों को भी। सबका भला हो।'

इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने 7 फरवरी को भी एक ट्वीट किया, इसमें उन्होंने लिखा, 'CP के प्राचीन हनुमान मंदिर जाकर हनुमान जी का आशीर्वाद लिया। देश और दिल्ली की तरक़्क़ी के लिए प्रार्थना की। भगवान जी ने कहा - "अच्छा काम कर रहे हो। इसी तरह लोगों की सेवा करते रहो। फल मुझ पर छोड़ दो। सब अच्छा होगा।" बता दें कि दिल्ली के विधानसभा चुनाव में हनुमान पर सियासत तब शुरू हुई, जब दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने एक न्यूज चैनल के साथ बातचीत के दौरान हनुमान चालीसा पढ़ी थी।

इसके बाद दिल्ली के मॉडल टाउन विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया था, इसमें उन्होंने लिखा, 'केजरीवाल हनुमान चालीसा पढ़ने लगे हैं, अभी तो ओवैसी भी हनुमान चालीसा पढ़ेंगे।' इसके साथ ही उन्होंने कहा था, 'ये हमारी एकता की ताकत है। ऐसे ही एक रहना है, इकट्ठा रहना है। एक होकर वोट करना है। हम सबकी एकता से "20% वाली वोट बैंक" की गंदी राजनीति की कब्र खुदकर रहेगी।'



Browse By Tags



Other News