एआरटीओ K.N. Singh के इस कदम से कार्यालय में अवांछनीय तत्वों का प्रवेश हुआ बन्द
| - Rainbow News Network - Feb 14 2020 3:01PM

कार्यालय के प्रवेशद्वार पर बन्द ताला 

अम्बेडकनगर। जिले के उप संभागीय परिवहन महकमे के मुखिया ने इस समय कठोर कदम उठा लिया है, जिसके चलते विभागीय कार्यालय के प्रवेशद्वार को कार्य दिवस के अवसर पर भी बन्द रखा जाने लगा है। अब विभाग से सम्बन्धित कार्यों के लिए आवेदक ही अन्दर प्रवेश कर पायेंगे। इसके लिए उनको अपने आवेदन प्रारूप पर लगी फोटो दिखानी पड़ेगी। इस तरह का कदम उठाये जाने के बाद अवांछनीय तत्वों का प्रवेश ए.आर.टी.ओ. कार्यालय पर बन्द हो गया है और दलाल प्रवृत्ति के लोग विभागीय कार्यालय से काफी दूर रहने को मजबूर हो गये हैं।

अवांछनीय तत्व और उपसंभागीय परिवहन कार्यालय में कथित रूप से दलाली करके धनोपार्जन करने वाले लोगों में निराशा देखी जा रही है। विभाग के मुखिया ए.आर.टी.ओ. के.एन. सिंह की सख्ती के चलते इन तत्वों के हौंसले पस्त हो गये हैं फलतः ये लोग कार्य दिवस में कार्यालय के प्रवेश द्वार पर एकत्र होकर अशान्ति का माहौल बनाने लगे हैं। हालांकि यह हंगामेदार स्थिति कार्यालय व परिसर से बाहर होने की वजह से विभागीय कार्यों में किसी तरह का व्यवधान उत्पन्न नहीं हो रहा है। ए.आर.टी.ओ कैलाश नाथ सिंह के इस कदम की लोगों द्वारा सराहना की जा रही है, नियमानुसार विभागीय कार्य कराने की गरज से कार्यालय पहुँचने वाले आवेदकों को इससे काफी सहूलियत मिल रही है।

अब विभागीय कार्य से सम्बन्धित आवेदक ही कार्यालय में कर सकेंगे प्रवेश : के.एन. सिंह

इस बावत ए.आर.टी.ओ. के.एन. सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि जब देखो तब दलाल, दलाल, दलाल और हर किसी की निगाह में उप संभागीय परिवहन कार्यालय व इसके मुलाजिम ही चढ़े रहते हैं। मैंने यहाँ अपने कार्यकाल के शुरूआती दिनों में ही दलालों के प्रवेश पर प्रतिबन्ध लगा दिया था, बावजूद इसके ये तत्व ऐन-केन-प्रकारेण कार्यालय व परिसर में पहुँच ही आते थे। बड़ी शिकायतें मिलने लगीं, जिसके बाद हमने काफी सोच विचार उपरान्त यह नई व्यवस्था लागू की है। अब विभागीय कार्य से सम्बन्धित आवेदक ही कार्यालय में प्रवेश कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें अपने आवेदन पत्र पर लगी फोटो दिखानी होगी। ऐसा न कर पाने की स्थिति में उसे कार्यालय परिसर में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

हाल ही में यह सख्त और नया कदम उठाने पर अवांछनीय तत्वों द्वारा हंगामेदार स्थिति उत्पन्न की गई थी। मेन गेट पर मौजूद सुरक्षाकर्मी होमगार्ड के जवान को गेट खोलने के लिए धमकाया भी गया था। इसके बावजूद भी सुरक्षा कर्मी ने गेट नहीं खोला जिससे अवांछनीय तत्व अन्दर प्रवेश नहीं कर पाये। इसकी जानकारी हमने विभागीय उच्चाधिकारियों, जिला प्रशासन व पुलिस महकमे को दे दिया है। यदि इसकी पुनरावृत्ति होती है तो ऐसा करने वालों पर पुलिस विभाग आवश्यक कार्रवाई करेगा। के.एन. सिंह ने उम्मीद जतायी है कि उनका यह कदम भले ही कठोर लग रहा हो परन्तु इस नई व्यवस्था का सार्थक परिणाम भी मिलेगा। 



Browse By Tags



Other News