इति ट्रंपासार चौबीसा अपौराणिक कथाया:
| -RN. Feature Desk - Feb 22 2020 5:30PM

ट्रंपासार चौबीसा की अपौराणिक कथा के अनुसार प्राचीन समय में अमेरिका में बासी गठनपुर नामक एक नगर था। वहां ट्रंपासार नाम का एक राजा राज्य करता था। उसके पास कई मिसाइलें और कई प्रकार के अणु टाइप के बम थे। अक्सर वह इनको दिखाकर शांति की ट्यूशन पढ़ाता था। सबसे ताकतवर व्यक्ति स्वयं विशिष्ट बुलेटप्रुफ सुरक्षा में रहता। आमतौर पर ट्रंपासार जी जब किसी अन्य देश के दौरे पर जाते तो वे अपनी खास सुरक्षा भी साथ लेकर चलते जो उनके पहुंचने से पहले ही उस देश में पहुंच जाती। आर्यावर्त में भी जब वो आते तो उनकी सुरक्षा का आलम ऐसा ही होता। वे अपने विशेष सुरक्षा इंतजामों और खास लिलि मोजिन द बीस्टर के साथ जाते।

वे अनगिनत वाहन, जो उनके अंदरूनी काफिले का अनिवार्य हिस्सा होते हैं, उनका ब्रह्मांड में अन्य कोई मुकाबला नहीं होता। जिसमें वे बैठते, वैसे सुरक्षित वाहन पृथ्वी नामक ग्रह पर तो अन्य किसी के पास नहीं होते। वे अपने एयरफोर्स वन नामक भीमाभीअतिकाय 7467479867002 बोइंग विमान से जाते, जिसमें मात्र 7000 हाथियों के बराबर वजन हुआ करता। उनके खास विमान को एस्कोर्ट करते हुए कम से कम 65389 भीमकाय विमान भी साथ होते। इसके अलावा कई अन्य विमान भी साथ आते। इस प्रकार दुनिया भर में वे इसी तरह जाते और आसमान में धुंए का अंबार लगाकर, अपनी शक्ति बताकर दुनिया को धुंएपंथ व अशांति के कीचड़ से मुक्ति के प्रवचन साधते!

ट्रंपासार पूरी दुनिया में गरीबी व बेकारी का जहर उतारने व शांति की स्थापना क्रांति के जरिये करने के प्रख्यात राजा थे। उन्होंने इसके कई मंत्र दुनिया को दिए। जिनमें से कुछ मंत्रों का हम यहां पर उल्लेख कर रहे हैं जो आपकी सुविधा के लिए है। आपको जो भी मंत्र सरल लगे प्रयोग में ले लीजिए। ध्यान दें! हम इस लेख के अंदर मंत्रों, वचनों व बातों से गरीबी व बेकारी का जहर कैसे उतारें इस बात पर चर्चा कर रहें हैं। मंत्र इस प्रकार है- 'जय ट्रंपायाही ट्रंपासार नमो आदेश गुरु का, काला गरीब-बेकार कंकरीयाला। मिसाइल का डंक, डॉलर का भाला। उतरे तो उतारूं, चढ़े तो मारूं। टॉमहॉक क्रूज रूपी नाना भांति मिसाइल छाएगा, तब तो अब्राम्स युद्धक टैंक आएगा।

टॉमहॉक हर किसी को खायेगा तोड़, जा रे गरीब तू अब बेकारी छोड़। यही है मेरी अमेरिकन भक्ति, यही है बम-बारूद की शक्ति। पूरित पूरे मेरो मन्त्र यही चाचा, जीव-जंत महंत संत सब वाचा।' विकास की डाली लेकर इस मंत्र का देर रात में 1000008 बार जाप करना चाहिए। इस मंत्र के हॉर्डिंग हर दिशा व दशा में लटकाने चाहिए। तब कैसा भी विषैला गरीब बेकार ही क्यों ना हो। इसका जहर आसानी से उतर जाएगा। शर्तिया शांति चारों ओर पसर कर बैठ जाएगी। इस कथा का पूर्ण मनोयोग से पठन, कहन, विज्ञापन, मनन, नमन करते हुए कदाचित वमन नहीं करने से भव-भवांतर तर जाते हैं।



Browse By Tags



Other News