डिजीटली सेल्समैन शिप लिमिटेड
| -RN. Feature Desk - Feb 24 2020 12:59PM

ढर्र डब: डब: ढर्र! ढर्र डब: डब: ढर्र! हां तो मेरे सारे मेहरबान! कदरदान! पानदान! पीकदान! तुम सबका मेरे इस मजमे में स्वागत है। मिस चोपड़ी! अब नचाए मसान की खोपड़ी! जय काली कलकत्ते वाली! जय पीली पटने वाली! जय नीली नागपुर वाली! मेरा वचन जाए हरदम खाली। जोधपुर हो या पाली। ब्राह्मण हो या माली। बड़े लोग बजाओ ताली। ये खेल चल्लू हो गया! खेल शुरू हो गया! भैया लोग थोड़ा आगे आ जाओ। बहना मेरे मजमे के नजदीक आ जाओ। आज बताऊंगी तुम्हें बंगाल का काला जादू! काली कंपनियों का रंगीन जादू! सब भाई-बहन हाथ खोल लें। मिस चौपड़ी का रंगीन जादू देख लें। जादू ऐसा जो सिर चढ़कर बोले। जादू ऐसा जो बैंक के लॉकर खोले।

मिस चोपड़ी अभी साल भर पुरानी ही गली सुंदरी है। सब सुंदरियों के समान यह भी पेट भराई के लिए धंधा करती है। उसने बाजार की चीजें बेचने का ठेका लिया है। इसी दिन के लिए तो उसने सुंदरी बनाने के लिए पापड़ बेले हैं। उसका 23 कंपनियों के साथ अनुबंध है। ये 10 एकड़ के छोटे से बंगले में फार्च्यून गाड़ी के साथ अपनी गरीबी के लिए दिन काटने को मजबूर है। उसे अभी तक आम नेताओं की तरह निजी हवाई जहाज नहीं मिल सका है। अतः मिस चोपड़ी को अपनी पेट भराई के लिए अपने हुस्न का जादू दिखाना पड़ता है। आज उसने एक बड़े शहर को अपनी गिरफ्त में ले रखा था। चोपड़ी नाइट के बहाने वह अपने रूप के जादू से आम जनता को सम्मोहित करने का प्रयास कर रही थी। सामने एक मानव की खोपड़ी रखी थी। यह खोपड़ी कोई कोल्ड ड्रिंक पीने में व्यस्त थी और दूसरी तरह की कई चीजें उसने सेल काउंटर पर सजा रखी थी। चारों और रंगबिरंगा धुआं उठ रहा था। लोगों की भारी भीड़ जमा थी, जिसे नियंत्रित करने के लिए चोपड़ी जी को इलाके की थानेदार से 50% नैन मटक्के करने पड़े थे।

चोपड़ी ने आगे कहना शुरू किया। मसान की खोपड़ी की ओर इशारा करते हुए बांसुरी की तान छेड़कर कहा- ढर्र डब: डब: ढर्र! ढर्र डब: डब: ढर्र! मर जाए मसान तेरा! दिखा दे कमाल! पीजा सटासट चिरिंडा! कोल्ड ड्रिंक्स का यह चिरिंडा! अरे पीजा! हट मत कर! इस भरी ठंड में ही चटकर पीजा। क्या कहा? पूजा! हां तुझे पूजा जरूर मिलेगी! पूरे 140 करोड़ लोग बसते हैं यहां! तुझे निराश नहीं करेंगे! चल गटक जा सारी चिरिंडा! ये पी गई! मसान पी गई!! भरी ठंड में पूरी चिरिंडा हुई खल्लास! मसान की खोपड़ी पूरी चिरिंडा पी गई। हां तो मेरे सारे मेहरबान! कदरदान! तुम घर में बैठे हो। बड़ी तेज प्यास लगती है। नल खोलते हो पानी गायब मिलता है। फ्रिज का दरवाजा खोलते हो ठंडा वाटर गायब! तुम किसी से प्यार करते हो आपकी गर्लफ्रेंड की आंखों का पानी गायब! किसी इंटरनेट पर 2025 किमी समुद्र पार किसी परदेसी बाला से इश्क लड़ाते हो! आपका साइबर लव इसी चिकने घड़े पर फिसलने वाली बूंद के समान गायब हो जाता है।

आप क्रिकेट के मैच में फिक्सिंग के लिए पैसा लगाते हो और किसी ईमानदार की नजर आप पर लग जाती है। आप सपने में पूरे 1 क्विंटल डरने लगते हो, आपका सारा पानी उतर जाता है। ऐसी 50 मुसीबतों से आपको यह कोल्ड्रिंक्स पीना पड़े। आपकी परेशानी खत्म हो जाए। आप फिर से तरोताजा हो जाएं। आपकी उम्र पूरे 15 वर्ष कम हो जाए। अगर यह चिरिंडा पीने से तुम फिर जवान हो जाओ। बहनों को रूपवती तरुण मिल जाइ। भाइयों को नई तरुणी फ्रैंड मिल जाए। तो बोलो यह काम धरम का या पाप का! मजमे से आवाज आती है- धरम का! चोपड़ी फिर कहती है। अरे यार जोर से बोलो। आज मिनरल वाटर नहीं पिया क्या? मजमा फिर चिल्लाता है- धरम का! तो जिसे ये चिरिंडा खरीदना हो वह मेरे करीब आ जाए। वह हाथ में ₹100 का खुल्ला नोट यू ऊंचा करके लहराए। भीड़ धड़ाधड़-खटाखट चिरिंडा खरीद रही है। चारों ओर चिरिंडा खरीदने के लिए भीड़ तेजी से लगी हुई है। मिस चोपड़ी की सहायक व भावी सुंदरियां नोटों को बोरों में भर रही है।डिजीटली सेल्समैन शिप प्राइवेट लिमिटेड कंपनी जोरदार काम कर रही है।



Browse By Tags