जितेन्द्र नाथ गुप्ता हत्याकाण्ड में नामजद अभियुक्त व शूटर गिरफ्तार
| - RN. Network - Mar 17 2020 4:50PM

अम्बेडकरनगर। एक पखवारे से फरार चल रहे हत्याभियुक्त और शातिर इनामिया अपराधी जिले की सक्रिय पुलिस के गिरफ्त में आ ही गये। इन हत्याभियुक्तों को पुलिस ने एक मुठभेड़ के दौरान पकड़े जाने का दावा किया। पुलिस पकड़ में आये हत्याभियुक्त जिले के जैतपुर थाना क्षेत्र में हुई व्यवसाई जितेन्द्र नाथ गुप्ता हत्याकाण्ड में नामजद थे और फरार चल रहे थे।

बता दें कि 1 मार्च 2020 जैतपुर थाना क्षेत्र के भुजगी मुस्तफाबाद निवासी जितेंद्र गुप्ता (48) पुत्र शोभालाल रविवार पूर्वाह्न खाना खाकर साइकिल से नेवादा बाजार स्थित आटा चक्की पर जा रहा था। जितेंद्र न सिर्फ आढ़ती था, बल्कि नेवादा में आटा चक्की भी चलाता था। बताया जाता है कि जब वह रैदा मोड़ के निकट पहुंचा, तो इसी बीच पीछे से बाइक सवार दो बदमाश वहां पहुंचे। उन्होंने अपना चेहरा अंगोछे से छिपा रखा था। बदमाशों ने जितेंद्र को रोक लिया। जब तक वह कुछ समझ पाता, तब तक बदमाशों ने उस पर तीन फायर झोंक दिया।

एक गोली गले पर, दूसरी कंधे पर, जबकि तीसरी गोली सिर पर लगी। गोली लगने से वह सड़क पर गिर पड़ा। गोली की आवाज से समूचा क्षेत्र गूंज उठा। ग्रामीण घटनास्थल की तरफ दौड़ पड़े। जब तक ग्रामीण मौके पर पहुंचते, तब तक बदमाश मौके से भाग निकले। ग्रामीणों की सूचना पर जैतपुर के प्रभारी एसओ वीके पांडेय पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। सांस चलने की उम्मीद में जितेंद्र को सीएचसी नगपुर ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। दिनदहाड़े हुए हत्याकांड से समूचे क्षेत्र में हड़कंप मच गया था। 

इसमें मृतक के पुत्र मयंक गुप्ता की तहरीर पर थाना जैतपुर में मुकदमा अपराध संख्या- 38/20 धारा 302, 120बी भादवि दर्ज की गई थी। जिसमें अभियुक्त अरूण कुमार गुप्ता पुत्र राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता निवासी ग्राम एकडल्ला, थाना सरपतहां, जिला-जौनपुर व ममता गुप्ता पत्नी मृतक जितेन्द्र नाथ गुप्ता को नामजद किया गया था। ममता गुप्ता को पुलिस ने पूर्व में ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस प्रकरण को पुलिस ने बड़ी गम्भीरता से लिया था और अरूण कुमार गुप्ता की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक अम्बेडकरनगर द्वारा 10 हजार रूपए का इनाम भी घोषित किया गया था। 

पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने जितेन्द्र नाथ गुप्ता हत्याकाण्ड में नामजद अभियुक्तों की गिरफ्तारी के बावत आयोजित एक प्रेस वार्ता में बताया कि थाना जैतपुर व थाना जलालपुर पुलिस की संयुक्त टीम को यह सफलता मिली। प्रियदर्शी के अनुसार हत्याभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु 16 मार्च 2020 को मुखबिर की सूचना पर उक्त दोनों थानों की पुलिस टीम द्वारा बरम बाबा के स्थान के निकट घेराबन्दी की गई। मुठभेड़ में मुख्य शूटर विजय शंकर तिवारी उर्फ चट्टान तिवारी पुत्र अच्छे लाल तिवारी निवासी ग्राम रामनगर, थाना-सरपतहां, जिला- जौनपुर के पैर में गोली लगी और काम्बिंग के दौरान कुछ ही देर में अभियुक्त अरूण कुमार गुप्ता को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

अभियुक्त विजय शंकर तिवारी उर्फ चट्टान के कब्जे से घटना में प्रयुक्त एक अदद पिस्टल 32 बोर व 2 अदद खोखा कारतूस एवं एक अदद मोटर साइकिल (यूपी 62 बीई 4574) बरामद की गई। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान विजय शंकर तिवारी को गोली लगी थी, उसे पुलिस अभिरक्षा में अस्पताल में दाखिल कराया गया है। उन्होंने बताया कि विजय शंकर उर्फ चट्टान तिवारी का एक लम्बा आपराधिक इतिहास है। इसके विरूद्ध जौनपुर में 3, सुल्तानपुर में 1 व अम्बेडकरनगर में 3 आपराधिक मुकदमे पंजीकृत हैं। 

गिरफ्तारकर्ता टीम में शामिल पुलिसजनों के बारे में एस.पी. ने जानकारी देते हुए बताया कि थाना जैतपुर के प्रभारी निरीक्षक प्रेम नारायण तिवारी, उपनिरीक्षक कृपा शंकर यादव, मुख्य आरक्षी कमलेश कुमार, आरक्षी विनय यादव, आरक्षी हरिश्चन्द्र चौधरी, आरक्षी कमलेश कुमार व थाना जलालपुर के प्रभारी निरीक्षक प्रदुम्न कुमार सिंह, आरक्षी लक्ष्मी यादव, आरक्षी अरूण पाल, आरक्षी सतीश यादव शामिल रहे। 



Browse By Tags



Other News