कोविड-19: अभिहित अधिकारी राजवंश श्रीवास्तव की अपील और सलाह
| - RN. Network - Mar 19 2020 6:12PM

जिला अभिहित अधिकारी राजवंश श्रीवास्तव

जब भी किसी बीमारी, महामारी अथवा अन्य प्रकार की शारीरिक व्याधियाँ होती हैं तो चिकित्सक और जानकारों द्वारा पीड़ित/मरीज के खान-पान पर विशेष ध्यान देने की बात की जाती है। मनुष्य में होने वाली व्याधियों का मूल कारण उसके आहार-विहार को ही माना जाता है इसलिए जानकारों द्वारा लोगों को स्वच्छ, साफ-सुथरे स्थान पर रखा व बना हुआ भोजन करने की सलाह दी जाती है। भोजन की गुणवत्ता व उसकी स्वच्छता के बावत सरोकार रखने वाले सरकारी महकमे के मुखिया और उनकी टीम का यह प्रयास रहता है कि उनके अगल बगल के और समाज के सभी लोग साफ-सुथरा, स्वच्छ, शुद्ध खाद्य पदार्थों का सेवन कर निरोग रहें। 

इस समय पूरे विश्व में कोविड-19 कोरोना वायरस को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। जन-जीवन अशान्त है। जनमानस तरह-तरह की आशंकाओं से घिरा हुआ है। इस महामारी के जनक कोरोना वायरस से कैसे उबरा जाये इसको लेकर सभी चिन्तित हैं। मानव जीवन मूल्यों से सरोकार रखने वाले लोग, शिक्षित जन व सरकारें तथा स्थानीय प्रशासन राउण्ड दि क्लाक स्थिति पर नजर रखते हुए चिन्तन-मनन कर रहा है। 

हमने उत्तर प्रदेश सूबे के जनपद अम्बेडकरनगर के खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन महकमा के मुखिया जिला अभिहित अधिकारी राजवंश श्रीवास्तव से दूरभाषीय सम्पर्क कर इस पर वार्ता किया और उनसे आवश्यक सलाह व जानकारी मांगी। व्यस्त होने के बावजूद भी उन्होंने कोरोना वायरस के बावत अब तक उनके द्वारा की गई स्टडी और एकत्र किए गए सुझाव को साझा किया।

साथ ही उन्होंने लोगों से अपील करते हुए बताया कि घरों के फ्रिज में गूंथा आटा न रखा जाये, बासी ठण्डा भोजन करने से परहेज किया जाये, ठण्डा पानी का सेवन कदापि न किया जाये, कच्ची सलाद जैसे-मूली, गाजर, प्याज, टमाटर, चुकन्दर आदि का सेवन करने से बचें।

इसके अलावा बचाव, सतर्कता के प्रति लोगों को जागरूक किया जाये। मानवीय आधार पर आज के संदर्भ में यह अति आवश्यक है। जिला अभिहित अधिकारी राजवंश श्रीवास्तव द्वारा भेजे गये संदेशों का प्रकाशन हम हुबहू कर रहे हैं, इनमें श्रीवास्तव ने कोरोना वायरस के लक्षण, कोरोना वायरस एलर्ट, कोरोना वायरस से बचाव आदि के बारे में बिन्दुवार जानकारी दी गई है। 



Browse By Tags



Other News