अकबरपुर में सब्जी विक्रेताओं ने मचाई लूट, वसूल रहे हैं मुँह मांगी कीमत
| - RN. Network - Mar 27 2020 3:50PM
  • प्रशासन द्वारा निर्धारित मूल्य से कई गुना अधिक कीमत पर बेंची जा रही हैं सब्जियाँ
  • सब्जियों के बढ़े दाम ने बढ़ाया सोशल डिस्टैन्सिग, प्याज, टमाटर और आलू को जल्द ही तरसेंगे लोग

अम्बेडकरनगर में लाकडाउन के तीसरे दिन से ही जमाखोरों और कालाबाजारियों ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक वस्तुओं के निर्धारित मूल्यों और निर्देशों को ताक पर रखकर सब्जी, दूध, फल एवं परचून सामान विक्रेता मनमाने दाम पर सामानों की बिक्री कर रहे हैं। इस समय अकबरपुर, शहजादपुर सहित जिले के सभी बाजारों, कस्बों में सब्जी व परचून की दुकानों पर आम आदमी का जमकर शोषण किया जा रहा है। 

सब्जियों के दाम आसमान पर हैं, और विक्रेताओं द्वारा यह कहा जाता है कि इनका रेट मण्डी में ही थोक भाव में अधिक है, इसलिए मजबूरन वह लोग महंगे दाम पर बेंच रहे हैं। यदि सब्जियों की महंगाई इसी तरह दिन दूनी और रात चौगुनी बढ़ती रही तो इस लाक डाउन में आम आदमी के घरों की रसोई में सब्जी बनाने वाली कड़ाही पलट कर रख दी जायेगी और लोग बगैर सब्जी के ही रोटी खायेंगे। 

शहजादपुर सब्जी मण्डी और अकबरपुर फ्लाई ओवर के नीचे सब्जी बेंचने वाले इस समय मनमाना कीमत वसूल रहे हैं। इनके ऊपर जिला प्रशासन की सख्ती का कोई असर नहीं दिख रहा है। बता दें कि बस स्टेशन अकबरपुर के दक्षिणी छोर से बी.एन. इण्टर कॉलेज, दूरसंचार केन्द्र व बी.एन. डिग्री कॉलेज गेट के सामने सड़क पर फ्लाई ओवर के नीचे दर्जनों सब्जी बिक्रेताओं द्वारा इस समय लाकडाउन का जमकर फायदा उठाया जा रहा है। पुराने व नये ग्राहकों से ये सब्जी बिक्रेता लाकडाउन का हवाला देते हुए सब्जियों का दाम कई गुना अधिक वसूल रहे हैं। 

इस समय लाकडाउन की बात करके ये सब्जी विक्रेता भिण्डी, परवल, हरी मिर्च, अदरख, शिमला मिर्च, सूरन, नींबू, आलू व अन्य सब्जियों का रेट कई गुना बढ़ा कर ग्राहकों को दे रहे हैं। साथ ही इनके द्वारा यह कहा जाता है कि आप हमारे खास हैं इसलिए सस्ते रेट पर आपको सब्जी दे रहे हैं। इनके द्वारा यह कहा जाता है कि इस समय नवीन सब्जी मण्डी सिझौली अकबरपुर में थोक में ही इन सब्जियों के दाम काफी बढ़े हुए हैं। 

इन सब्जी विक्रेताओं द्वारा आलू 30 रूपए, प्याज 40, बैंगन 60, कद्दू 60, हरी मटर 60, भिण्डी 100, हरी मिर्च 120, नींबू 10 प्रति पीस की दर से बेंचा जा रहा है। वहीं परवल 80, सूरन 60 रूपए, अदरख 100, शिमला मिर्च 100, लौकी 30 से 40, करैली 100, टमाटर 40 से 60 रूपए प्रति किलो की रेट से दुकानदारों द्वारा बेंचा जा रहा है जो कि जिला प्रशासन द्वारा सब्जियों के निर्धारित रेट से कई गुना अधिक है। 



Browse By Tags



Other News