लाकडाउन को लेकर सख्त हुआ प्रशासन, जिले की सीमाएँ कर दी गई हैं सील
| - RN. Network - Mar 31 2020 1:42PM

अम्बेडकरनगर। वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए देश में 21 दिन का लाकडाउन गत 25 मार्च 2020 से चल रहा है। इसी बीच देश के बाह्य प्रदेशों/स्थानों, जनपदो से भारी संख्या में मजदूरों का पलायन भी शुरू हो गया है। ये मजदूर जो अपने गृह निवास से दूर रहकर जीविकोपार्जन कर रहे थे उन्होंने अपने-अपने घरों की वापसी शुरू कर दी है। ऐसे में लाकडाउन में की जाने वाली सोशल डिस्टैन्सिंग जैसी पाबन्दी असम्भव सी होने लगी है।

शासन द्वारा लाकडाउन पूर्णतया प्रभावी करने के लिए नित्य निर्देश जारी किया जा रहा है। लाकडाउन को लेकर यहाँ का जिला प्रशासन भी सख्त हो गया है। शासन द्वारा 30 मार्च को जारी अद्यतन निर्देश के अनुपालन में जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने जनहित में जिले की सभी सीमाएँ तत्काल प्रभाव से सील करने का आदेश दिया है। जिलाधिकारी द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि लाकडाउन अवधि (14 अप्रैल 2020 तक) में किसी भी व्यक्ति को जनपद की सीमा में आने अथवा जनपद से बाहर जाने की अनुमति नहीं होगी।

राकेश कुमार मिश्र, जिलाधिकारी

जारी आदेश में कहा गया है कि मजदूरों को लेकर आने वाली बसों से बाहरी जनपदों के निवासी मजदूरों को उसी बस से सीधे उनके गृह जनपद के लिए भेजा जायेगा। बसों से उतरने वाले जनपद के निवासी मजदूरों को जिला/तहसील स्तरीय कोरांटीन में रखा जायेगा तथा मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण कराये जाने के उपरान्त यदि वे स्वस्थ पाये जाते हैं तभी उन्हें उनके घरों को जाने दिया जायेगा। 

जिलाधिकारी द्वारा जारी आदेश के अनुसार बाहर से आने वाले ऐसे सभी व्यक्ति/मजदूर जो अपने गाँव में पहुँच गये हैं उन्हें गाँव में ही निर्धारित अवधि के लिए सेल्फ आइसोलेशन में रहने को कहा गया है। बाहर से आये प्रत्येक मजदूर/व्यक्ति के घर के बाहर कोरोना वायरस से सम्बन्धित सूचना चस्पा की जाये। ऐसे मजदूर/व्यक्ति जो सेल्फ आइसोलेशन में सहयोग नहीं कर रहे हों, उन्हें तहसील एवं जिला स्तर पर साधिकार कोरंटीन में रखे जाने का आदेश दिया गया है। 



Browse By Tags



Other News